सपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान, अखिलेश ने सीएम योगी पर उठाये सवाल

0
69
Akhilesh yadav
  • दारा सिंह चौहान ने भाजपा को बताया कौरव की सेना
  • अभिमन्यु की तरह अखिलेश को घेरने की हो रही कोशिश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान के समाजवादी पार्टी में शामिल हो गये। अखिलेश यादव ने दारा सिंह चैहान को सपा की सदस्यता दिलाई। इस अवसर पर अखिलेश यादव सीएम योगी आदित्यनाथ पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अच्छा हुआ उन्हें बीजेपी ने पहले ही गोरखपुर भेज दिया। अब जनता के साथ मिलकर हम उन्हें लखनऊ से विदाई दे देंगे। उन्होंने कहा कि अभी तक लग रहा था डबल इंजन में इंजन एक दूसरे से टकरा रहे। मगर जो विदाई हुई है गोरखपुर के लिए मैं बधाई देता हूं। अखिलेश यादव ने कहा कि जब बीजेपी ने ही योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर भेज दिया है तो जनता और हम सब मिलकर यह पक्का कर देंगे की दोबारा न आ पायें।

Akhilesh Yadav

दलित के घर सीएम योगी आदित्यनाथ के खाना खाने को लेकर तंज कसा। उन्होंने कहा कि कैसी बेमन की तस्वीर थी जिसमें वह खिचड़ी खा रहे थे उन्हें याद आ रहा होगा कि साबुन और शैंपू नहीं भिजवाया। यह जानते थे कि गरीब है हो सकता है न नहाया हो दो तीन दिन से इसीलिए साबुन भिजवाया था। अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि पिछड़ों का वोट पाने के लिए मुख्यमंत्री खिचड़ी खा रहे हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि अगर आज गरीब के पास तेल, साबुन कपड़े नहीं हैं तो इसके लिए जिम्मेदार कौन हैं। इसके लिए सरकार जिम्मेदार है क्योंकि महंगाई की वजह से वो इन चीजों को नहीं खरीद पाते हैं। प्रदेश वासी महंगाई से परेशान हैं। उन्होंने कहा कि दारा सिंह विभाग में रहकर लगातार कोशिश करते रहे उन्हे पेड़ पौधों से नदियों से कोई लगाव ही नहीं है।

साथ तो सबका लिया लेकिन विकास अपना किया : दारा सिंह चौहान

सपा की सदस्यता लेने बाद पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान ने भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने साथ तो सबका लिया लेकिन विकास चन्द लोगों का ही किया। बीजेपी ने पिछड़ों और दलितों को सिर्फ ठगने का काम किया है। किसान आज सर्दी मे खेतों में सोकर जानवरों से अपने खेतों की रक्षा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज चुनाव हो जाए तो आज ही सरकार बदल जाये। दारा सिंह चैहान ने कहा कि मैं पिछले पांच साल से इस मौके का इंतजार कर रहा था। जब मैंने देखा की दलित, पिछड़ों के साथ नाइंसाफी हो रही है और संविधान से छेड़छाड़ हो रही थी,तब मैंने समाजवादी पार्टी में शामिल होने का फैसला लिया है।

100 में 85 हमारा है, 15 में भी बंटवारा है, का नारा दिया। उन्होंने कहा कि ब्राम्हण समाज के साथ भी भेदभाव हो रहा है। उन्होंने जातिगत जनगणना को लेकर अपनी बात कही। पिछड़ों की भी सरकार बनने पर गिनती कराएंगे। भाजपा कौरव की सेना है, अभिमन्यु की तरह अखिलेश यादव को घेरने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव ने बीजेपी के सभी चक्रव्यूह को तोड़ दिया है। उन्होंने सपा में आने के बारे में कहा कि समाजवादी पार्टी तो मेरा पुराना घर है।

यह भी पढ़ेंः-अखिलेश ने सीएम योगी पर साधा निशाना, गोरखपुर भेजने के लिए बीजेपी को धन्यवाद