Friday, December 3, 2021

महिला बैंक मैनेजर आत्महत्या मामले में IPS आशीष तिवारी समेत तीन पर FIR, परिजनों ने कही ये बात

Must read

- Advertisement -

अयोध्या। रामगरी अयोध्या में पीएनबी बैंक मैनेजर सुसाइड केस में पुलिस ने आईपीएस अधिकारी और अयोध्या के पूर्व एसपी रहे आशीष तिवारी सहित तीन लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आईपीएस आशीष तिवारी, हेडकांस्टेबल अनिल रावत और विवेक गुप्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। अयोध्या के पूर्व एसपी रहे आशीष पर मुकदमा दर्ज होने के साथ पुलिस विभाग एक बार अपनी वर्दी पर दाग लगा चुका है। शनिवार को अयोध्या में पीएनबी बैंक की मैनेजर श्रद्धा ने अपने आवास पर सुसाइड कर ली थी। बैंक मैनेजर के पिता की तहरीर पर अयोध्या पुलिस ने आईपीएस समेत तीन लोगों पर एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई की है। अयोध्या के पुलिस अधीक्षक शैलेष पांडेय ने बताया कि परिजनों की शिकायत के आधार पर अभियोग पंजीकृत किया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया गया है। उन्होंने आगे कहा कि पुलिस की जांच जारी है।

- Advertisement -

 shradha sucide note

ज्ञात हो कि अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक की सहानगंज शाखा की उप प्रबंधक श्रद्धा गुप्ता ने शनिवार को अपने किराए के मकान में फंदे से लटकी मिली थीं। घटनास्थल से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें दो पुलिसकर्मियों को इससे लिए जिम्मेदार ठहराया गया था। वहीं सुसाइड नोट बरामद होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने सवाल उठाना शुरू कर दिया था। श्रद्धा गुप्ता मूलतः लखनऊ की रहने वाली थी। बीते 5 सालों से अयोध्या में पीएनबी बैंक में कार्यरत थी।

विवेक की हरकतों से टूटा था रिश्ता

ज्ञात हो कि करीब एक साल पहले उनकी बहन श्रद्धा की शादी बलरामपुर के उतरौला निवासी विवेक गुप्ता से तय हुई थी। चिनहट इलाके में बीबीडी के पास दयाल रेजीडेंसी में रहने वाला विवेक उस समय लखनऊ स्थित एचसीएल में नौकरी करता है। बताया जा रहा है कि विवेक की हरकतें खराब थीं। वह लगातार श्रद्धा को परेशान कर रहा था। विवेक की कई युवतियों से उसकी दोस्ती थी, जिनका उसके घर पर भी आना-जाना था। कुछ और बातें पता चलने पर विवेक से श्रद्धा की शादी तोड़ दी गई थी। मगर वो श्रद्धा को परेशान कर रहा था।

पुलिस अधिकारियों के नाम पर देता था धौंस

श्रद्धा के भाई शुभम गुप्ता का आरोप है कि विवेक गुप्ता न सिर्फ उनकी बहन श्रद्धा को बल्कि पूरे परिवार को तंग कर रहा था। समझाने पर भी वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था। वह पुलिस अधिकारियों का नाम लेकर धौंस देता था। कहता था कि उसका कोई कुछ नहीं कर सकता है। शुभम का आरोप है कि विवेक की कुछ पुलिसकर्मी मदद करते थे, इसी के चलते वह दबंगई कर रहा था।

यह भी पढ़ेंः-अयोध्या में बैंक अधिकारी ने लगायी फांसी, सुसाइड नोट आईपीएस सहित तीन के नाम

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article