AAP के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के खिलाफ FIR, राष्ट्रपति, CM योगी और विधायकों पर की थी टिप्पणी

161
FIR Against AAP Leader Sanjay singh

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर टिप्पणी करने वाले आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) पर एफआईआर दर्ज की गई है. संजय सिंह पर लखीमपुर खीरी में अरविंद गुप्ता नाम के युवक ने गोला गोकर्णनाथ कोतवाली में तहरीर दी और उसी आधार पर पुलिस ने राज्यसभा सांसद संजय सिंह के खिलाफ धारा 153A. 505(2) में मुकदमा दर्ज कर लिया है. संजय सिंह ने सिर्फ सीएम योगी पर ही नहीं बल्कि राष्ट्रपति से लेकर विधायकों तक पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

शिकायतकर्ता अरविंद ने अपनी शिकायत में कहा कि, 12 अगस्त 2020 को आप पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने अपने साथी सभाजीत सिंह और बृजकुमारी के साथ प्रेस कांफ्रेंस की. जिसकी रिपोर्ट अगले दिन यानि 13 अगस्त को समाचार पत्रों में छपी. संजय ने आरोप लगाते हुए कहा कि, प्रदेश में लोगों को चुन-चुनकर मारा जा रहा है और ब्राह्मणों पर सबसे ज्यादा अत्याचार हो रहा है. संजय सिंह ने कहा कि, बीजेपी पार्टी में 58 विधायक ब्राह्णण हैं और वो भी काफी नाराज हैं. उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा भी ब्राह्मण हैंFIR against AAP MP Sanjay singh लेकिन वो इस बारे में चुप्पी साधे रहते हैं और डिप्टी सीएम केशव मौर्य एक भी मौर्य का काम करा पाने में सक्षम नहीं है. संजय सिंह ने आगे कहा कि, हमारे देश के राष्ट्रपति दलित हैं और उन्हें राम मंदिर भूमि पूजन पर न्योता नहीं दिया गया. अब सिर्फ ठाकुरों का काम किया जा रहा है. राजभर, कुर्मी, यादव, सोनकर, निषाद, तेली, नाई आदि सब लोग सरकार के इस रवैये से नाराज हैं.

संवैधानिक मर्यादा का उल्लंघन
संजय के इन बयानों पर अरविंद ने आरोप लगाया कि, उन्होंने समाज को बांटने के उद्देश्य से बयानबाजी की और देश के राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री और विधायकों पर टिप्पणी की. जो संवैधानिक मर्यादा का उल्लंघन है. शिकायतकर्ता की शिकायत पर मामला दर्ज हो चुका है और इस पर एसपी सतेंद्र सिंह का कहना है कि, आप पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने अपने सहयोगी के साथ जो भी आपत्तिजनक बातें कही थीं उसी पर शिकायत हुई है. मुकदमा दर्ज हो चुका है आगे की जांच जारी है.

ये भी पढ़ेंः- CM योगी आदित्यनाथ मेरे राजनीतिक गुरु;, कांग्रेस MLA अदिति सिंह के बयान से पार्टी में भूचाल!