2.7 C
New York
Sunday, January 17, 2021
Home उत्तर प्रदेश यूपीः गधे की लीद, घास और एसिड से बन रहा था ब्रांडेड...

यूपीः गधे की लीद, घास और एसिड से बन रहा था ब्रांडेड कंपनी का मसाला, फैक्ट्री का पर्दाफाश

उत्तर प्रदेश के हाथरस से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जिसने लोगों को ही नहीं बल्कि पुलिस के भी होश उड़ा दिए हैं. पुलिस ने एक ऐसी फैक्ट्री का पर्दाफाश किया है जहां गधे की लीद, एसिड और भूसे से ब्रांडेड कंपनी का मसाला बनाया जा रहा था. फैक्ट्री में नकली मसालों को गोरखधंधा चलते देख पुलिस दंग रह गई और पुलिस ने फैक्ट्री से करीब 300 किलोग्राम से ज्यादा नकली माल यानि मसाले जब्त किए हैं. बताया जा रहा है कि, कारखाने में स्थानीय ब्रांड नेम पर मिलावटी मसाले बनाकर बाजार में बेचे जाते थे.

लोगों की जान से खिलवाड़
मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने फैक्ट्री के मालिक अनूप वार्ष्णेय को हिरासत में लिया है. अनूप हिंदू युवा वाहिनी के ‘मंडल प्रहरी’ है. लोगों की जान से खिलवाड़ हाथरस के नवीपुर इलाके में स्थित कारखाने में किया जा रहा था. पुलिस ने जब फैक्ट्री में छापा मारा तो उन्हेंHathras-fake-spice लाल मिर्च पाउडर से लेकर धनिया पाउडर, गरम मसाला मिला. फैक्ट्री से ये मसाले स्थानीय बाजार में धड़ल्ले से बेचे जा रहे थे. हैरानी की बात ये है कि, धनिया, गरम मसाला और हल्दी में गधे की लीद, रंगों, एसिड और घास मिलाई जाती थी.

मिल रही थी शिकायत
पुलिस ने एक्शन लेते हुए मालिक को हिरासत में लिया है और मसालों के 27 सैंपल्‍स, जांच के लिए लैब भेज दिए हैं. इस संबंध में संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा की ओर से बताया गया कि, मालिक वार्ष्णेय को सीआरपीसी धारा 151 के तहत न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. सैंपल्स की जांच रिपोर्ट आने के बाद खाद्य सुरक्षा औरfake spice-UP-Hathras मानक अधिनियम के तहत मामला दर्ज होगा. उन्होंने बताया कि, क्षेत्र से काफी लंबे समय से शिकायत सामने आ रही थी और इन्हीं शिकायतों के आधार पर पुलिस ने फूड इंस्पेक्टर के साथ छापा मारा था. जिसमें पुलिस को वाकई हैरान कर देने वाली चीजें मिली.

शरीर को गहरा नुकसान
फैक्ट्री में लोगों की सेहत से खिलवाड़ करते हुए जो मसाले बनाए जा रहे थे. ये शरीर के लिए जानलेवा भी हो सकते हैं और नकली मसालों का सेवन ना सिर्फ पेट संबंधी बीमारियां पैदा करता है. बल्कि इससे कैंसर जैसी घातक बीमारी भी हो सकती है. मसालों में एसिड और रंग मिले होने की वजह से शरीर के अंदरूनी अंगों को नुकसान पहुंचता है. ऐसे में जरूरी है सावधान रहना.

ये भी पढ़ेंः- UP: हनी ट्रैप गैंग का भंडाफोड़, ऐसे बिछाते थे गंदे खेल का जाल, ब्लैकमेल कर मांगते थे मोटी फिरौती

Most Popular

Recent Comments