योगी राज में खौफ खाने लगे हैं अपराधी, अभी तक इतने एनकाउंटर करवा चुकी है योगी सरकार

0
712

केंद्र में मोदी सरकार है, और देश का सबसे बड़ा सूबा उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार है। जब केंद्र में मोदी की सरकार आई और उसके कुछ दिनों बाद यूपी में योगी आदत्यिनाथ ने सूबे की कमान अपने हाथ में संभाली तो लोग कहने लगे कि अब देश का विकास दोगुना गति से बढ़ेगा। ये भी पढ़े :यूपी में महिला सुरक्षा में बड़ी चूक, 10 साल की बच्ची के साथ हैवानियत

अब इसी बीच, योगी सरकार के कार्यकाल के पूरे ढ़ाई साल पूरे हो चुके हैं। आगामी 19 सितंबर 2019 को योगी आदित्यनाथ सरकार के पूरे ढ़ाई साल पूरे हो जाएंगे। इस अवसर पर प्रदेश सरकार अपने राज्य में एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है, जिसमें सूबे की सरकार ढ़ाई साल के अपने उपलब्धियों को जनता के बीच साझा करेगी।

वहीं, इससे पहले योगी सरकार के ढ़ाई साल के कारनामों के कुछ आंकड़े भी जारी किए गए, फिलहाल तो ये आंकड़े इस बात का तस्दीक करते हुए नजर आ रहे हैं। योगी बाबा फॉर्म में हैं और अपराधी फुल खौफ में है। ये हम नहीं बल्कि जारी किए गए आंकड़े बयां कर रहे हैं। आंकड़ों के मुताबिक, योगी सरकार में अब तक 4,458 पुलिस एनकाउंटर हुए हैं। इतना ही नहीं, पुलिस मुठभेड़ में 49 अपराधियों को मौत के घाट उतार दिया गया है। इस दौरान 9,833 अपराधी को गिरफ्तार भी किया गया है। वहीं, इस पूरी ही घटना को अंजाम देने वाले कुल 4 पुलिसकर्मी भी शहीद हो गए।

इस बीच, सूबे की सरकार ने दावा किया है कि वर्ष 2018 में डकैती में 42.63 प्रतिशत की कमी आई है। बलात्कार में 7.63 प्रतिशत की कमी हुई है। हत्या में 7.08 फीसद की कमी आई है। लूट में 22.1 फीसद की कमी दर्ज की गई है। फिरौती और अपहरण में 30.43 प्रतिशत की कमी आई है।

वहीं, इन आंकड़ों से इतर सूबे के गृह सचिव अवनिश अवस्थी ने भी सरकार के कामकाजों की तारीफ करते हुए कहा कि जब से योगी आदित्यनाथ ने सूबे की कमान संभाली है, तब से सांप्रदायिक दंगे नहीं हुए हैं। सभी पर्व त्योहार को शांतिपूर्वक तरीके से बनया गया है।

इसके साथ ही डीजीपी ने भी सरकार के कामकाज की प्रशंसा करते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के मुकाबले इस सरकार में अपराध में उल्लेखनीय कमी आई है। ओपी रावत ने ऑपरेशन मुस्कान का जिक्र करते हुए कहा कि अभी तक इस ऑपरेशन के अन्तर्गत कई लापता बच्चों को उनके माता-पिता के पास पहुंचाया गया है। साथ ही आत्मरक्षा के तहत सूबे की महिलाओं को सबल बनाने के लिए हर काम को अंजाम दिया जा रहा है।

सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने अपनी इस उपलब्धि पर कहा कि हमने सूबे के पुलिसकर्मियों को सभी  पूर्णत: अधिकार दिए हुए हैं, ताकि वे सूबे में बढ़ते अपराध पर स्वंतत्रतापूर्वक काम कर सके। इतना ही नहीं, हमने एक नोटिस भी जारी कर सभी अपराधियों को कह दिया है कि वे पुलिस को सरेंडर कर दें। ये भी पढ़े :साक्षी के पिता से सुलह चाहते हैं अजितेश के पापा, सीएम योगी आदित्यनाथ से की ये अपील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here