Wednesday, December 8, 2021

CM YOGI ने दिलायी माफिया राज की याद, अपराधियों के आगे गिरवी था प्रशासन

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रमुख विपक्षी दलों पर कड़ा प्रहार किया है। उन्होंने कहा है कि सपा, बसपा और कांग्रेस ने जातिवाद को बढ़ावा देते हुए अपने शासनकाल में प्रदेश को दंगे की आग में झोंक दिया था। उद्योग-धंधे चैपट हो गये थे, दंगों में संपत्ति लूटी जाती थी। त्योहारों पर कर्फ्यू का पहरा होता था। गुंडे- माफिया व्यवस्था पर हावी होकर लोगों को लूटते थे। उन्होंने भाजपा सरकार में आज शांति है। उन्होंने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि प्रदेश में एक भी दंगे नहीं हुए। सभी त्योहार शांति से मनाये जा रहे हैं। व्यापारियों और समाज के पिछड़े वर्ग को सामाजिक सुरक्षा देते हुए तमाम योजनाएं चल रही है। एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) आज प्रदेश की एक लोकप्रिय आर्थिक योजना के रूप में चल रही है।

- Advertisement -

Yogi Aditynath

सीएम योगी ने कहा कि हर व्यक्ति को अपने देश और जाति पर गौरव करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जातिवाद से बचते हुए राष्ट्रवाद को बढ़ावा देते हुए समाज और देश के उत्थान पर ध्यान देना चाहिए। सामाजिक न्याय की लड़ाई में स्व. कर्पुरी ठाकुर के योगदान की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें सोचना होगा कि जिन लोगों ने अपने स्वार्थ में समाज को बांटकर सामाजिक ताने बाने को छिन्न-भिन किया। उनकी क्षति की, वह कभी सम्मान के योग्य नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि हमारा सामाजिक तानाबाना एक दूसरे से इतना जुड़ा होता था कि कोई भी मांगलिक कार्य पूरा नहीं होता था।

बसपा राज में कोरोना होता तब…

कोरोना काल की चर्चा करते हुए योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश, देश का पहला राज्य था जिसने श्रमिकों के परिवार के भरण-पोषण के लिए भत्ता की व्यवस्था की गयी है। सरकार लोगों को, गरीबों को मुफ्त में राशन दे रही है. उन्होंने कहा कि यही कोरोना महामारी सपा शासन में आयी होती तो चाचा-भतीजे में हड़पने की होड़ लग जाती। माफिया को ठेका देने की होड़ मच जाती। कांग्रेस से सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। बसपा राज में कोरोना होता तब तो भगवान ही मालिक होते। अखिलेश यादव को संवेदनहीन करार देते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सपा शासन में इंसेफेलाइटिस के कहर से बच्चे बीआरडी मेडिकल कालेज में मासूम बच्चे मर रहे थे लेकिन अखिलेश यादव उन पीड़ित बच्चों से मिलने की बजाय एक मांगलिक कार्यक्रम में जाना जरूरी समझा था।

व्यापारियों को 10 लाख रुपये का बीमा कवर

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पिछली सरकारों में दंगे होते थे। व्यापारियों की संपत्ति लूटी जाती थी. व्यापारियों की हत्या की जाती थी जिसके खिलाफ हमने खुद सड़क पर उतर कर लड़ाई लड़ी है। उन्हांेने कहा कि अब व्यापारी सुरक्षित हैं। हमारी सरकार ने व्यापार का एक बेहतर माहौल दिया है। व्यापारी कल्याण बोर्ड का गठन कर व्यापारियों को दस लाख रुपये का बीमा का कवर दिया है।

यह भी पढ़ेंः-पुलिस स्मृति दिवस पर योगी ने UP POLICE को दी सौगात, 25 फीसदी बढ़ाया भत्ता

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article