यूपी में शुरू होगा ‘मिशन शक्ति’, रावण के फूंकते ही बलात्कारियों-मनचलों की आएगी शामत, कांप उठेगी रूह

122
cm yogi shakti mission

उत्तर प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के साथ लगातार बलात्कार और शोषण की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं. जिस वजह से विपक्षी दल भी योगी सरकार पर हमलावर है. वैसे तो सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi adityanath) ने बलात्कारियों के खिलाफ कई ठोस कदम उठाए हैं. लेकिन अब जो ऐलान किया गया है उससे निश्चित रूप से ही मनचलों और बलात्कारियों की रूह कांप उठेगी. क्योंकि सीएम ने ऐलान किया कि 17 अक्टूबर यानि पहले शारदीय नवरात्र से यूपी पुलिस (UP Police) एक खास अभियान चलाएगी. इस अभियान के अंतर्गत सिर्फ निगरानी की जाएगी. मगर रावण के जलते ही कार्रवाई शुरू हो जाएगी.

रावण फूंकते ही होगी सख्त कार्रवाई
सीएम योगी ने ऐलान किया कि रावण के फूंकते ही बलात्कारियों और मनचलों पर ऐसी कार्रवाई होगी जिस पर या तो बलात्कारी और मनचले यूपी छोड़ देंगे या फिर गले में माफीनामे की तख्ती डालकर घूमेंगे. सीएम ने दो टूक में कहा कि, सभ्य समाज में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जो महिलाओं, बेटियों, नाबालिग बच्चों और अनुसूचित जाति के लोगों के साथ अपराधिक घटनाओं को अंजाम देते हैं. ऐसे ही लोगों के खिलाफ दशहरे के बाद ऐसी कार्रवाई होगी कि दुराचारी खुद ही माफी मांगने के लिए मजबूर हो जाएंगे या कार्रवाई से डरकर प्रदेश ही छोड़ देंगे.

17 अक्टूबर से शुरू होगा ‘मिशन शक्ति’
सीएम योगी के आदेश के मुताबिक शारदीय नवरात्रि यानि 17 अक्टूबर से ‘मिशन शक्ति’ की शुरुआत हो रही है. इस मिशन के अंतर्गत नौ दिनों तक प्रदेश के हर थाने में ऐसे असामाजिक तत्वों की सूची बनाई जाएगी और गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी. जैसे ही दशहरा आएगा तो ऐसे शोहदों पर कार्रवाई भी शुरू हो जाएगी. इसके अलावा मनचलों और अपराधियों के परिजनों को भी उनकी हरकतों के बारे में बताया जाएगा. शासन स्तर पर इसकी समीक्षा की जाएगी. सीएम योगी ने सख्त लहजे में कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर घोषित अपराधियों की फोटो भी लगाई जाएगी.

ये भी पढ़ेंः- CM योगी के इस फैसले से महाराष्ट्र सरकार को लगेगी मिर्ची, छिन जाएगी शहर की पहचान!