Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति

सीएम तेरी गंगा मैली : अखिलेश का BJP पर करारा प्रहार, YOGI ने इसलिए नहीं लगायी डुबकी…

जौनपुर /वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दो दिनों के दौरे पर वाराणसी हैं। इस दौरान उन्हांेने काशी विश्वनाथ काॅरिडोर का लोकार्पण किया। उन्होंने गंगा आरती के साथ ही बीजेपी नेताओं के साथ बैठक की। मंगलवार को बरेका गेस्ट हाउस में सीएम और डिप्टी सीएम के साथ बैठक हो रही है। इस दौरान समाजवादी पार्टी के मुखिया यादव ने बीजेपी पर करारा निशाना साधा है। अखिलेश यादव ने गंगा के गंदा होने का दावा किया है। उन्होंने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर तंज कसा है।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि सीएम योगी ने गंगा में डुबकी इसलिए नहीं लगाई क्योंकि वह जानते हैं कि गंगा गंदी है। अखिलेश ने कहा कि बीजेपी ने गंगा की सफाई पर करोड़ों खर्च किए हैं, लेकिन सीएम योगी को पता है कि गंगा में गंदगी है, इसलिए उन्होंने उसमें डुबकी नहीं लगाई। अखिलेश ने आगे कहा कि सवाल यह है कि क्या मां गंगा कभी साफ होंगी? मिल रहे फंड खर्च हो रहे हैं, लेकिन नदी साफ नहीं हुई है।

ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वाराणसी के ललिता घाट पर जाकर गंगा में डुबकी लगाई थी। वहां वह काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का लोकार्पण करने पहुंचे थे। पीएम के दौरे पर भी अखिलेश ने बयान दिया था, जिसपर विवाद हो गया था। पीएम मोदी के वाराणसी दौरे पर अखिलेश ने कहा था कि आखिरी समय में वहीं पर रहा जाता है। बीजेपी नेताओं ने अखिलेश के बयान को शर्मनाक बताकर उनको घेरा था। बीजेपी ने कहा था कि इस तरह प्रधानमंत्री के लिए मृत्यु की इच्छा जताना अखिलेश की विकृत मानसिकता को दर्शाता है। आगे कहा गया था कि चुनाव में दिख रही हार से बौखलाए अखिलेश अपना संतुलन खो बैठे हैं।

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव मंगलवार को उत्तर प्रदेश के जौनपुर में हैं। वहां वह समाजवादी विजय यात्रा निकाल रहे हैं। अखिलेश जौनपुर जिले के 6 स्थानों पर जनसभा को भी संबोधित करेंगे। वाराणसी से सटे जिले जौनपुर में विधानसभा की 9 सीटें आती हैं। वाराणसी में विधानसभा की 8 सीटें हैं। ज्ञात हो कि 2017 के चुनाव में जौनपुर की 9 में से 5 सीटों (बदलापुर, जौनपुर सदर, जाफराबाद, केराकत और मढ़ियाहू) पर बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टी अपना दल (एस) जीती थी, जबकि सपा के खाते में सिर्फ 3 सीटें आई थी। अखिलेश यादव पूर्वांचल पर निशाना साध रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः-वाराणसी में PM मोदी और CM योगी तो अखिलेश पहुंचे जौनपुर, ऐसा है पूर्वांचल का सियासी समीकरण