Friday, December 3, 2021

वृंदावन की सिद्धस्थली श्री निधिवनराज का वीडियो बना कर ऐसे तोड़ी मान्यता, रात में की थी ये हरकत

Must read

- Advertisement -

मथुरा। वृंदावन के प्राचीन सिद्धस्थली श्री निधिवनराज में आधी रात को घुसकर वीडियो शूट करने वाले यू-ट्यूबर गौरव को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। गौरव शर्मा ने 10 नवंबर को ठाकुर बांके बिहारी की प्राक्टयस्थली श्रीनिधिवनराज में दीवार फांदकर वीडियो शूट कर सैकड़ों वर्ष पुरानी मान्यता को तोड़ा था। आरोपी गौरव शर्मा ने वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया था। वीडियो वायरल होने बाद मंदिर के सेवायत रोहित कृष्ण पुत्र भीक चंद्र गोस्वामी ने अज्ञात के विरुद्ध 13 नवम्बर को आईपीसी की धारा 295 (ए) एवं आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत मुकदमा दर्ज करा दिया था। मान्यता को ठेस पहुंचाने को लेकर बनाये गये वीडिया को पुलिस हरकत में आ गयी। पुलिस ने गौरव शर्मा को दिल्ली के पंचशील पार्क से गिरफ्तार कर लिया और मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर जेल भेज दिया है।

- Advertisement -

ज्ञात हो कि गौरव शर्मा ने अपने करीब आधा दर्जन साथियों के साथ 10 नबंवर की रात निधिवन राज में घुसकर वीडियो शूट किया था। वीडियो का कंटेंट सोशल मीडिया पर अपलोड किया गया था। मंदिर सेवायत समेत धार्मिक संगठनों ने यू-ट्यूबर की इस हरकत पर कड़ी आपत्ति जतायी है। मंदिर के लोगोें ने इस धार्मिक मर्यादा के विरुद्ध बताकर कड़ी कार्यवाई की मांग की थी। सेवायत रोहितकृष्ण की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर गौरव को गिरफ्तार कर लिया। यूटूबर गौरव शर्मा इससे पहले भी जेल जा चुका है। अपने पालतू कुत्ते को हाइड्रोजन बैलून में बांधकर उड़ाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने इसी साल के फरवरी महीने में उसे गिरफ्तार किया था।

अलीगढ़ का रहने वाला है आरोपी गौरव

कोतवाली प्रभारी विनय कुमार मिश्र ने बताया कि इस मामले का अभियुक्त गौरव शर्मा मूलतः अलीगढ़ का रहने वाला है। वर्तमान में वह दिल्ली के मालवीय नगर क्षेत्र में रहता है। उसे वहीं से गिरफ्तार कर मथुरा लाया गया और मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। आरोपी गौरव शर्मा ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह बीते पांच वर्ष से दिल्ली में ही रहकर गौरव जोन नाम से यू-ट्यूब चैनल चलाता है और इससे अच्छा-खासा कमा लेता है। वह छह नवम्बर को मथुरा में महोली रोड स्थित अपने चाचा राजकुमार के यहां आया था। उसने बताया कि उसे उसके चचेरे भाई प्रशांत ने बातों-बातों में बताया कि वृन्दावन में एक ऐसा स्थान है जहां प्राचीन मान्यता है कि रात में भगवान स्वयं लीला करने आते हैं। कोई भी व्यक्ति वहां रात में रुक नहीं सकता है। ऐसा करने पर मंदिर की ओर से प्रतिबंध है, क्योंकि यदि कोई व्यक्ति वहां रुकने का प्रयास करता है तो वह या तो मर जाता है अथवा विक्षिप्त हो जाता है।

मोबाइल फोन से बनाया वीडियो

आरोपी गौरवा ने बताया कि इसके बाद उसने प्रशांत व उसके मित्रों मोहित, अभिषेक व एक अन्य के साथ रात में वहां जाने एवं निधिवन का वीडियो बनाने का प्रयास किया। गौरव ने बताया कि वे सभी मध्य रात्रि कार से वहां पहुंचे और गौरव के साथ प्रशांत और मोहित मंदिर परिसर की दीवार फांद कर अंदर प्रवेश कर गये। अभिषेक और पांचवां लड़का गाड़ी में ही बैठे रहे थे। पुलिस ने बताया कि गौरव द्वारा अपने मोबाइल फोन से वीडियो बनाने के बाद करीब 15-20 मिनट में वे सभी वहां से वापस आ गये। उन्होंने बताया कि इसके बाद दिल्ली पहुंचकर गौरव ने नौ नवम्बर को वह वीडियो अपने यू-ट्यूब चैनल पर अपलोड कर दिया, लेकिन जब 13 नवम्बर को उसे पता चला कि इस मामले में उनके खिलाफ वृन्दावन में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। उसने तुरंत वह वीडियो न केवल चैनल से हटा दिया, बल्कि अपने मोबाइल फोन से भी डिलीट कर दिया।

यह भी पढ़ेंःड्रीम गर्ल हेमा मालिनी ने कहा, जब काम नहीं कर रहे हैं तो सैलरी क्यों मथुरा में मचा हड़कम्प

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article