भाजपा वोट मांगने से पहले माफी मांगे, बीजेपी पर तल्ख हुई ममता बनर्जी

0
390
akhilesh yadav mamta banrji
  • अखिलेश यादव और ममता बनर्जी ने एक साथ की प्रेसवार्ता
  • किसान आंदोलन और कोरोना से मौतों पर बीजेपी को घेरा

लखनऊ। विधानसभा चुनाव प्रचार अब सियासी गर्मी में तब्दील हो चुका है। ममता बनर्जी मंगलवार को समाजवादी पार्टी के लिए प्रचार करने पहुंच चुकी हैं। उन्होंने सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ प्रेस कॉफ्रेंस की, जिसमें ममता ने अखिलेश को भाई कहकर संबोधित किया। प्रेसवार्ता के दौरान ममता बनर्जी ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बीजेपी को वोट से पहले माफी मांगनी चाहिए। कोविड काल के दौरान मौतों और किसान आंदोलन के दौरान हुई मौतों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। ममता ने बताया कि अखिलेश ने बंगाल चुनाव के दौरान जया बच्चन, किरणमय नंदा को भेजकर प्रचार में मदद की थी। ममता बनर्जी ने कहा कि एकजुट होकर सपा को वोट करें और बीजेपी को हरायें। ममता ने कहा कि मैं सांप्रदायिक राजनीति नहीं करती। हम समाज के लिए काम करते हैं।

बीजेपी को हराना है तो अखिलेश को सपोर्ट करें : ममता

ममता बनर्जी ने कहा कि टीएमसी यूपी में चुनाव नहीं लड़ रही है। अगर देश को भारतीय जनता पार्टी से बचाना है तो यूपी में जो उनके भाई अखिलेश यादव चुनाव लड़ रहे हैं, उनको सपोर्ट करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि यूपी, बिहार, राजस्थान, पंजाब के कई लोग बंगाल में रहते हैं। ममता ने कहा कि यूपी देश का सबसे बड़ा राज्य है और अगर बीजेपी इस राज्य से गई तो वह पूरे देश से गई। देश को बचाने के लिए अखिलेश की जीत जरूरी है।

लता को किया याद

ममता बनर्जी ने ‘ए मेरे वतन के लोगों’ गाकर लता मंगेशकर को याद किया। ममता ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव के बाद कोई घर में रहता है, कोई दिल्ली में रहता है, कोई हैदराबाद में रहता है और चुनाव के वक्त चले आते हैं। वह वोट के कोयल हो गए हैं। ऐसे लोगों को कभी वोट देकर अपना वोट नष्ट मत करो। मतदान सही प्रत्याशी के लिए होना चाहिए।

अमर जवान ज्योति का किया जिक्र

ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी नाम बदल रही है। अमर जवान ज्योति को भी नष्ट कर दिया गया। ममता बनर्जी ने बीजेपी पर देश का नाश करने का आरोप लगाया। वह बोलीं कि बीजेपी कानून से काम नहीं कर रही और एनकाउंटर करती है। उन्होंने कहा कि सजा देना, अपराध तय करना न्यायालय का काम है। ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने सुना है कि आज हमारा प्रोग्राम है इसीलिए बीजेपी आज मेनिफेस्टो निकाल रही है। पहले माफी मांगो, फिर वोट मांगो। उन्होंने कहा कि उन्नाव कांड और हाथरस कांड में क्या हुआ? गंगा माई की हम पूजा करते हैं, यूपी की गंगा में डेड बॉडी मिलीं। सब लाशें गंगा मां में फेंक दी गईं। बंगाल तक आईं उन लाशों का वहां अंतिम संस्कार कराया गया था।

बीजेपी के घोषणापत्र का जिक्र करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने सुना स्कूटी दे रहे हैं। अब तक दिया क्यों नहीं। उन्होंने कहा कि चुनावी वादे और जुमले में फर्क करना होगा। मैंने 1 लाख से ज्यादा साइकिल बच्चों को दी। उन्होंने कहा कि जनता का रुपया आप ले जाते हो। 40 प्रतिशत राज्य को देते हो बचा खुद रख लेते हो। यह सब जानता का रुपया है। ममता बनर्जी ने कहा कि कोविड काल में हुई मौतों का जिक्र किया। किसान आंदोलन में 700 से अधिक लोगों की मौत हुई, उन सब के परिवारों को नौकरी मिलनी चाहिए। उन गरीबों को रेल में नौकरी दे दो. रेलवे में कई नौकरियां खाली हैं।

जीत का रसगुल्ला एक साथ खायेंगे : अखिलेश

प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे उम्मीद है 10 मार्च को जीत का रसगुल्ला हम लोग एक साथ खाएंगे। अखिलेश ने कहा कि मैं ममता बनर्जी को बधाई देता हूं जिन्होंने सांप्रदायिक ताकतों को हराने का काम किया है। दीदी कल कोलकाता से उड़कर लखनऊ आ गई लेकिन दिल्ली वाले नहीं आ पाए कह दिया मौसम खराब है। सच में भाजपा वालों के लिए बीजेपी में मौसम खराब है।

ये भी पढ़ेंः-गर्मी निकले ना निकले लेकिन भर्ती जरूर निकलेगी, सीएम योगी पर हमलावर हुए अखिलेश