यूपी में महिला सुरक्षा में बड़ी चूक, 10 साल की बच्ची के साथ हैवानियत

0
445

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश में कितने भी सख्त कानून और महिला सुरक्षा के दावें कर ले। लेकिन सरकार के दावों की पोल हर रोज यहां खुलती है। प्रदेश से रोज ऐसी घटनाएं सामने आती है। जिसमें महिलाओं से लेकर छोटी बच्ची तक के साथ हैवानियत की वारदात को अंजाम दिया जाता है और अब ऐसी ही यही घटना यूपी के बागपत से सामने आई है। जहां पर एक मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया। दरअसल बागपत में एक स्कूल में तीसरी क्लास में पढ़ने वाली बच्चों के साथ दुष्कर्म किया गया। लेकिन हैरानी तो इस बात कि है कि इलाके में इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी यूपी पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी है। कहा जा रहा है कि बच्ची के साथ हुई हैवानियत के बाद भी यूपी पुलिस इस घटना पर पर्दा डालने में लगी है। ताकि किसी भी तरह बच्ची के साथ हैवानियत की वारदात को करने वाले आरोपी को बचाया जा सके। जिसके चलते अब यूपी पुलिस पर कई तरह के सवाल उठने लगे है।

हालांकि ये पहला मामला नहीं है। पश्चिमी यूपी में महिलाओं के साथ घटनाए बढ़ती जा रही है। लेकिन फिर भी यूपी पुलिस सो रही है। खेकड़ा शहर में 22 सितंबर 2018 को भी 10 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म की वारदात सामने आई थी। इस दौरान एक दुकानदार पहले बच्ची को दुकान में लेकर गया और वहां पर दुकानदार ने बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी। जिसके विरोध में स्थानिय लोगों ने इलाके में मजकर हंगामा किया था। वही इससे महज कुछ दिन पहले ही छपरौली में भी ऐसी ही घटना हुआ। जहां पर खेत में पिता को खाना देकर लौट रही 10 साल की बच्ची के साथ दरिंदगी की गई। युवक ने दुष्कर्म के बाद गला घोंट कर उसकी हत्या कर दी थी। बता दें कि यूपी में महिलाओं के साथ ऐसी कई घटनाएं है। लकिन ऐसी भी कई घटनाएं यहां मौजूद है। जो पुलिस के सामने आती तक नहीं। जिसके चलते यूपी पुलिस और प्रशासन दोनों पर कई तरह के सवाल उठ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here