BHU

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी में रविवार को हुई नीट 2021 की परीक्षा में सॉल्वर गैंग में लड़कियों की एंट्री का खुलासा हुआ है। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की छात्रा दूसरे लड़के के स्थान पर परीक्षा देते हुए पकड़ी गई है। वाराणसी कमिश्नरेट की क्राइम ब्रांच की टीम ने लड़की को गिरफ्तार कर लिया है। लड़की से गैंग के अन्य सदस्यों के बारे में पूछताछ कर तलाश जारी है। वाराणसी में पहली बार ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक लड़की दूसरे के लिए परीक्षा देती हुई पकड़ी गयी है। क्राइम ब्रांच की पूछताछ में खुलासा हुआ कि लड़की काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने के मामले की जानकारी देते हुए हुए वाराणसी के पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने बताया कि नीट परीक्षा में सॉल्वर गैंग के ऊपर नजर रखने के लिए क्राइम ब्रांच की टीम गठित की गई थी।

इसी टीम ने नीट परीक्षा के लिए सारनाथ स्थित एक सेंटर पर संदेह के आधार पर लड़की को पकड़ा है। जांच में पता चला की लड़की दूसरे के स्थान पर परीक्षा दे रही थी। पुलिस कमिश्नर के मुताबिक यह डील 5 लाख रुपये में हुई थी। लड़की ने अपने आप को बीएचयू की छात्रा बताया है। इस मामले पर लड़की की जानकारी ली जा रही है। साथ ही इस गैंग को पकड़ने के लिए भी पूछताछ जारी है। ज्ञात हो कि वाराणसी में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से आयोजित नीट की परीक्षा रविवार को दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक हुई। जिले के 53 केंद्रों पर करीब 30,000 अभ्यर्थी पंजीकृत थे। नीट की इस परीक्षा में परीक्षार्थियों की करीब 86 फीसद उपस्थिति रही।

कोरोना प्रोटोकाल के संग हुई परीक्षा

कोरोना प्रोटोकाल को देखते हुए एक कक्ष में मात्र 12 परीक्षार्थियों को बैठाने की व्यवस्था की गई थी। वहीं थर्मल स्कैनिंग व हाथ सैनिटाइज कराने के बाद ही परीक्षार्थी को केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति दी जा रही थी।

यह भी पढ़ेंः-टीजीटी परीक्षा में साल्वर गैंग की साजिश नाकाम, UP STF को ऐसे मिली सफलता