basti

उत्तर प्रदेश के बस्‍ती में दुबौलिया थाने पर ड्यूटी पर तैनात एक इश्क मिजाज दारोगा को बीती रात गांव वालों ने एक युवती के घर से निकलते हुए देख लिया। दारोगा पर सभी लोगों ने रंगरेलियां मनाने का आरोप लगाया और इन बातों का खंडन करते हुए इसका विरोध किया तो नाराज दारोगा ने सरकारी पिस्टल से फायर कर दिया। इस बात से सभी गांव वालों को गुस्सा आ गया, जिसके बाद सभी ने मिलकर दारोगा को खंभे से बांध कर लाठी-डंडों से उसकी काफी पीटाई की। गुरुवार सुबह करीब 4 बजे सूचना मिलते ही दुबौलिया थानाध्यक्ष दारोगा को साथ ले गए। अब सोशल मीडिया पर दारोगा की पिटाई का ये वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

क्या थी पूरी घटना

बता दें कि दुबौलिया थाने के हल्का नंबर-2 का एक दारोगा अशोक कुमार चतुर्वेदी चिलमा बाजार में एक किराए के कमरे में रहता है। बीते दो सालों से दुबौलिया थाने पर वो दारोगा तैनात है। दारोगा अशोक के इश्क मिजाजी वाले स्वभाव से पूरा क्षेत्र भलिभांति अवगत है। आज से करीबन चार माह पूर्व ग्रामीणों ने आलाधिकारियों से उसकी शिकायत की थी कि वो दारोगा गलत हरकतें करता है। इसके बाद थाने से हटाए जाने पर उसने कोई जुगाड़ लगाया और फिर दुबौलिया आ गया। इसी के बाद मनचला दारोगा अशोक बुधवार की देर रात पल्सर बाइक से थाना क्षेत्र के ऊंजी गांव पहुंचकर वहीं के एक घर में घुस गया।

ग्रामीणों की थी मनचले दारोगा पर पैनी नज़र

इश्क मिजाज दारोगा को रंगरेलियां मनाते गांववालों ने पकड़ा,पिटाई का वीडियो  सोशल मीडिया पर वायरल - सुल्तानपुर टाइम्स - हिंदी समाचार, Hindi News, आज ...

दारोगा पर सभी ग्रामीण पैनी नजर रखे हुए थे और घर से बाहर निकलने का इंतजार कर रहे थे। सभी ग्रामीण हाथ में डंडा लिये दारोगा के स्वागत के लिये खड़े थे। सुबह 3 बजे के दौरान अशोक बाहर निकला तो उसने खुद को ग्रामीणों के बीच घिरा हुआ देखा, तो हवा में सरकारी पिस्टल से फायर कर दिया। गुस्से में भरे बैठे ग्रामीणों ने दारोगा की जमकर पिटाई की फिर उसे खंभे से बांध दिया। इसके बाद फिर सबने उसकी काफी धुनाई की। ग्रामीणों की ही सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष मनोज त्रिपाठी किसी तरह से उसे ग्रामीणों से छुड़ाकर थाने लेकर गये।

इसे भी पढ़ें-RBI ने Bank Locker से जुड़े इन नियमों में किये बदलाव, इन शर्तों पर बैंक नहीं लेगा कोई जिम्मेदारी