बस्ती: प्रधानी चुनाव को लेकर दो पक्षों में खूनी भिड़ंत, मारपीट के साथ चली गोलियां, 18 लोग घायल

311
Basti fight news

उत्तर प्रदेश का सूबा बस्ती आए दिन किसी न किसी कारण चर्चाओं में ही बना रहता है. कभी आपराधिक मामले के चलते तो कभी दंगों के चलते तो कभी चुनाव को लेकर, इसी बीच एक और बड़ी खबर बस्ती जिले के पैकोलिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले भैरोपुर गांव से आ रही है. जहां पर प्रधानी चुनाव को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर घमासान हुआ और खूनी भिड़ंत देखने को मिली. चुनाव के चलते दोनों पार्टियों के बीच लाठी-डंडे से लेकर ईंट और गोलियां भी चली. बताया जा रहा है कि इस घटना में दोनों पक्षों से मिलाकर कुल 18 लोग घायल हुए हैं. जिन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हरैया में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.

ये भी पढ़ें:- बस्ती: बेखौफ अपराधियों के हौसले बुलंद, मारपीट में 1 शख्स की हुई मौत, परिवार के 2 लोग घायल

दरअसल भैरोपुर गांव में पूर्व प्रधान की ओर से मौजूदा प्रधान को एक शिकायत दर्ज कराई गई थी. जिसके बाद जिले से एक प्रशासनिक टीम जांच के लिए मौजूदा प्रधान के घर पहुंची थी. शिकायत के आधार पर तहकीकात करने के बाद जांच टीम वहां से रवाना हो गई. लेकिन मौजूदा प्रधान प्रतिनिधि पंडित सिंह को ये बात हजम नहीं हुई और इसी मसले को लेकर वो बौखला गए. इसके बाद पूर्व प्रधान रंजीत सिंह के समर्थक, मौजूदा प्रधान के घर के सामने ही आपस में भिड़ गए. लड़ाई के दौरान दोनों के बीच लाठी डंडे और जमकर पत्थरबाजी हुई. मारपीट के समय घटना में दोनों तरफ से लगभग ढाई दर्जन लोग घायल हो गए. इतना ही नहीं कहा तो ये भी जा रहा है कि असलहे से फायरिंग भी की गई, जिसके कारण दोनों पक्ष वहां से भाग निकले.

फिलहाल मारपीट में घायल हुए लोगों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया जा रहा है. इनमें से कुछ घायलों को काफी गंभीर चोटें आई हैं. इस घटना की जानकारी जैसे ही पैकोलिया थाना में पहुंची, वैसे ही मौके पर अन्य चार थानों की फोर्स गांव में पहुंच गई. बताया जा रहा है कि देखते ही देखते पूरा गांव छावनी में बदल गया. थाने से इस बारे में बड़े अधिकारियों को इक्तला किया गया. घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक और सीओ हरैया ने भी पहुंचकर पूरे मामले का जायजा लिया. इसके साथ ही महिला पुलिस के जरिए गांव के संदिग्ध घरों में छापेमारी में भी की गई.

इस मामले में मौजूदा प्रधान प्रतिनिधि की पत्नी शीला सिंह ने आरोप लगाया है कि पूर्व प्रधान ने प्रधानी की दुश्मनी के चलते रंजीत सिंह हमारे घर पर आए और हमारे पति से लेकर घर वालों को काफी मारा पीटा और यहां तक कि फायरिंग भी की है. जिसके चलते घटना में परिवार के कई लोगों को गंभीर चोटें भी आई हैं. वहीं दूसरी तरफ पूर्व प्रधान रंजीत सिंह के समर्थकों का आरोप है कि मौजूदा प्रधान पंडित सिंह के लोगों ने उन पर हमला किया जिसके बाद पूर्व प्रधान व उनके घर वाले घायल हो गए. उन्होंने बताया कि मारपीट में पंडित सिंह समेत उनके भाइयों ने मिलकर उन्हें काफी ज्यादा मारा-पीटा है.

फिलहाल इस पूरे मामले पर एसपी हेमराज मीणा से जब मीडिया वालों ने सवाल किया तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि, दोनों पक्षों के बीच 6 तारीख की रात झगड़ा हुआ था. इसमें दोनों पक्षों को मिलाकर लगभग 16 लोगों को 151 में चालान किया गया. लेकिन इसके बाद भी आज सुबह दोनों आपस में भिड़ गए. इस दौरान एक पार्टी के 4 लोग और दूसरे पक्ष से 8 लोग घायल हुए हैं. जिनका हरैया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज चल रहा है. उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद सीओ हरैया और अपर पुलिस अधीक्षक रवींद्र कुमार सिंह मौके पर पहुंचकर सभी लोगों से पूछताछ कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- बस्ती के सांसद हरीश द्विवेदी ने उड़ाई सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां,लोगों से करवाया स्वागत