harriya

हरैयाा(बस्ती)। एक बार फिर पुलिस और ग्रामीणों के बीच विवाद बढ़ गया है। हरैया तहसील क्षेत्र के गौर थानान्र्तगत तरैनी गांव में गत रात करीब ग्यारह बजे एक विवाद हो गया था। विवाद की सूचना पर गांव में दबिश देने पहुंची गौर पुलिस और ग्रामीणों के बीच मामला फंस गया। ग्रामीणों के आक्रोश देखते हुए पुलिस ने महिला व बच्चों सहित कुछ लोगों की जमकर पिटाई कर दी। आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस वालों की भी पिटाई कर दिया। ग्रामीणों की पिटाई से पुलिस के जवान भी घायल हुए हैं। ग्रामीण और पुलिस के बीच हुई इस मारपीट की सूचना पर गांव में कई पड़ोसी थानों की फोर्स को तैनात कर दिया है। बताया जा रह है कि तरैनी गांव में परशुराम यादव व राजदेव यादव के बीच तांत्रिक के द्वारा झाड़-फूंक को लेकर कुछ विवाद था। इस विवाद की सूचना किसी ने पहले डायल 112 को दी।

मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत कराया लेकिन कुछ देर बाद फिर लोगों में टकराव शुरू हो गया। विवाद को देखते हुए गौर थाने की पुलिस सरकारी जीप से गांव पहुंची। जहां पर महिलाओं और पुलिस के बीच तीखी बहस होने लगी। नाराज पुलिसकर्मियों ने कुछ लोगों की पिटाई कर दी। पुलिस की बर्बरता देख आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस वालों पर हमला कर दिया। इस बीच ग्रामीणों के साथ ही कुछ पुलिस के जवान भी घायल हो गए। अंधेरे का फायदा उठाते हुए ईट पत्थर भी खूब फेंके गए। पत्थरबाजी से जीप के शीशे टूट गए। मारपीट के दौरान पुलिसकर्मी रमाशंकर यादव का नेम प्लेट व दो चश्मे ग्रामीणों मिले हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि गांव के ही शुभम, धर्मेन्द्र, अंजनी यादव और राजेश के मोबाइल फोन पुलिसकर्मी उठा ले गए। जबकि पुलिस की पिटाई से रंजीत(14), मुकेश(12), अंजनी (25)और लालू (5)को गंभीर चोटें आई हैं। सभी कों जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार ने बताया कि तरैनी गांव में दबिश देने गए कुछ पुलिसकर्मियों से ग्रामीणों ने मारपीट की है। वारदात की जांच की जा रही है। गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है।

यह भी पढ़ेंः-Basti: भ्रष्टाचारी प्रधान से भगवान ही बचाए ऐसे में लाभार्थी बेचारे कहां जाए