गोरखनाथ मंदिर हमले में लगातार एक्शन ले रहा ATS , मुर्तजा के साथ दो अन्य लोगों को लिया गया हिरासत में

खबरों के अनुसार मुर्तजा कई महीने पहले देवबंद मुर्तजा गया था. वहां से एटीएस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है.

0
376

बीते दिन गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा में तैनात सिपाहियों पर हमला होने की खबर पर अब कई सारे खुलासे होते हुए आ रहे हैं. अब इस मामले में सभी लोग आतंकी रोधी दस्ता (ATS) हमलावर अहमद मुर्तजा अब्बासी के मददगारों की तलाश में लगे हैं. बहुत से लोगों को पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया है. खबरों के अनुसार मुर्तजा कई महीने पहले देवबंद मुर्तजा गया था. वहां से एटीएस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है. इसके अतिरिक्त सहारनपुर, कानपुर, लखनऊ और अन्य शहरों से भी कुछ लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है.

मिले कई सुराग

जांच एजेंसियों के हाथ इसके साथ ही मुर्तजा की चार बैंक डिटेल भीलगी है. इसमें ICICI बैंक, प्लेटिनम फेडरल बैंक, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक के एक अन्य खाते के अतिरिक्त कुछ और खातों की भी जानकारी एजेंसियों को मिली है. ऐसे में ये आशंका है कि इन्हीं खातों से रुपये ट्रांसफर किए गए होंगे. एटीएस मुर्तजा को स्लीपर सेल का एक हिस्सा भी मान रही है. इसीलिए इसे क्रैक कर पूरी कड़ी सामने लाने का प्रयास है.

अभी भी इस पूरे मामले की जांच एजेंसियांं कर रही हैं. उनके मुताबिक, शुरुआती पूछताछ और उसके लैपटॉप, मोबाइल के डेटा से मिली जानकारी के मुताबिक मुर्तजा से सोशल मीडिया पर कट्टरपंथी विचारों वाले वीडियो ही देखता था.

इंटरनेट पर सीरिया में सिर कलम करने, अमेरिका में 9/11 हमले और पश्चिमी देशों में आतंकियों के लोन वुल्फ़ अटैक के कई सारे वीडियो मुर्तजा देखा करता था. जांच एजेंसियों ने बोला है कि इन्हीं वीडियो और भड़काऊ भाषणों से मुर्तजा का पूरी तरह से ब्रेनवाश हो चुका था और वो एक बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए भी पूरी तरह से तैयार हो गया था.

इसे भी पढ़ें-बीच सड़क पर अचानक ही ड्राइवर पर भड़कने लगीं Kareena Kapoor, वायरल हो रहा वीडियो