Categories
उत्तर प्रदेश राजनीति

बुआ, बबुआ और बहन को अमित शाह ने ललकारा, तीनों मिल कर नहीं कर पायेंगे ये काम

  • अमित शाह ने दिया नारा अबकी बार, भाजपा 300 के पार

मुरादाबाद। विधानसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही राजनीतिक दलों में तल्खियां बढ़तरी जा रही हैं। जुबानी और सियासी हमले भी तेज हो गए हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव में भाजा की कमान संभाले अमित शाह ताबड़तोड़ रैलियां और बैठकें कर रहे हैं। गुरुवार को मुरादाबाद के बुद्धिविहार ग्राउंड में जनविश्वास यात्रा जनसभा में अमित शाह ने बुआ, बबुआ और बहन बोलकर मायावती, अखिलेश और प्रियंका गांधी को ललकारा। उन्होंने कहा कि तीनों मिलकर भी भाजपा को नहीं हरा पाएंगे। मुरादाबाद की रैली में अमित शाह ने अबकी बार, भाजपा 300 पार का नारा भी दिया।

अमित शाह ने मायावती, अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बहन जी चुनाव आ गया है, थोड़ा बाहर निकलिए। उन्हांेने तंज कसते हुए कहा कि बाद में मत कहना है कि बाहर नहीं निकले थे। बुआ, बबुआ और बहन तीनों इकठ्ठा हो जाएं फिर भी भाजपा कार्यकर्ता के आगे दाल नहीं गलने वाली है। इस दौरान अमित शाह ने लोगों को याद दिया कि समझ रहे हो ना कि बहन किसको कह रहा हूं। प्रियंका गांधी का नाम लिए बगैर तंज कसते उन्होंने आगे कहा कि बहन जी की तो अभी ठंड ही नहीं गई है। अरे चुनाव आ गया है, बहन जी थोड़ा बाहर भी आ जाओ।

अमित शाह ने कांग्रेस पर परोक्ष हमला करते हुए कहा कि पाकिस्तान से आतंकी आते थे तो दिल्ली वालों की उफ नहीं निकलती थी। उड़ी और पुलवामा हमला हुआ तो हमारी सरकार ने 10 दिन में उनके घर में घुसने का काम किया। सर्जिकल कार्रवाई से जवाब दिया। 370 हटानी चाहिए थी। बुआ, बबुआ उसका विरोध करते थे। उन्होंने कहा कि आज कश्मीर देश का अभिन्न अंग बना है। पीएम मोदी जी के अलावा कोई यह काम नहीं कर सकता था।

अखिलेश यादव पर हमलावर हुए अमित शाह ने कहा कि अखिलेश जी, मोदी जी ने रामजन्म भूमि मंदिर बनाया। मोदी जी ने नींव डाली। उन्होंने सवाल करते हुए पूछा… राम मंदिर आंदोलन पर गोली किसने चलाई थी। सपा सरकार ने चलाई थी। 2014 और 19 में मोदी जी को पूर्ण बहुमत मिला। कुछ ही महीनों में गगनचुंबी राम मंदिर बनने जा रहा है। अमित शाह ने अखिलेश यादव के लिए निजाम NIZAM का मतलब समझाया और कहा कि निजाम का मतलब शासन होता है। मगर अखिलेश के निजाम का मतलब एन नसीमुद्दीन, इमरान, आजम और मुख्तार था। आपको ये वाला निजाम चाहिए क्या, या योगी-मोदी जी का सुशासन चाहिए।

अमित शाह ने अपने भाषण में कहा कि यहां पर समाजवादी पार्टी के एक नेता ने कहा था कि लड़कों से गलतियां हो जाती हैं। माताओं की सुरक्षा और बहनों का सम्मान भाजपा का वचन है। उन्होंने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में माताओं बहनों से छेड़खानी कर पाये। उन्होंने कहा कि ट्रिपल तलाक मोदी जी ने हटा दिया तो इनके पेट मे मचलन हो रही है। मुस्लिम माताओं और बहनों को अधिकार देने चाहिए कि नहीं चाहिए। इस दौरान अमित शाह ने विपक्षियों पर जमकर निशाना साधा।

यह भी पढ़ेंः-अमित शाह के ABCD जुमले पर अखिलेश का करारा जवाब, A अब B भाजपा C छोड़ D दी