Saturday, December 4, 2021

पुलिस एनकाउंटर में मारा गया अमर दुबे.. 29 जून को ही हुई थी शादी..रोते हुए दादी ने कहा- विकास दुबे..

Must read

- Advertisement -

कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी रहे विकास दुबे अभी-भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है। मगर अभी तक उसका कोई अता-पता नहीं चला है। मगर विकास दुबे का बेहद करीबी और दाहिना हाथ माने जाने वाला अमर दुबे को आज सुबह 6 बजे पुलिस एनकाउंटर में मार गिराया गया है। बता दें कि कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या में वह भी शामिल था। इस एनकाउंटर को अंजाम देने के बाद वो पुलिस की गिरफ्त से बाहर था, लेकिन आज सुबह पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी और उसे मार गिराया गया।

- Advertisement -

ये भी पढ़े :कानपुर कांड पर बड़ा खुलासा: 2 पुलिसकर्मी निकले विकास दुबे के साथी, पल-पल की ऐसे दे रहे थे सारी जानकारी

परिवार में पसरा मातम 

बता दें कि विकास दुबे का करीबी माने जाने वाले अमर दुबे की शादी अभी कुछ दिनों पहले 29 जून को ही हुई थी। अभी इस नई नेवली दुल्हन के हाथों की मेहंदी का रंग फीका भी नहीं पड़ा था कि इससे पहले अपनी नापाक करतूतों की वजह से अमर दूबे पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। वहीं अमर दुबे के मारे जाने से उसके पूरे परिवार में मातम पसरा हुआ है। उसकी दादी का रो-रो कर बुरा हाल है। उसके परिवार का हर एक शख्स गजमदा है। उसके परिवार का हर एक शख्स अपनी जुबां से विकास दुबे को कोस रहा है। वहीं अमर की दादी ने तो विकास दुबे का नाम लेते हुए कहा कि उसने तो मेरे पूरे परिवार को बर्बाद कर दिया है। मुझसे मेरा लाल छीन लिया है। अभी 29 जून को ही तो शादी हुई थी।

25 हजार का इनाम था 

विकास दुबे के साथ ही पुलिस ने अमर दुबे पर 25 हजार रूपए का इनाम घोषित किया हुआ था। वह विकास दुबे का दाहिना हाथ माना जाता था। कानपुर एनकाउंटर में भी वो शामिल था। बताया जा  रहा है कि अमर मदोहा के अपने एक रिश्तेदार के घर में छुपने जा रहा था। इससे पहले उसके फरिदाबाद में छिपने की खबर सामने आई थी। लेकिन वह यूपी एसटीएफ की खबर लगते ही वहां से मदोहा के लिए भागने में सफल रहा। इस दौरान एसटीएफ लगातार  उसका पीछा करती रही। जब उसने एसटीएफ पर फायरिंग शुरू करी तब वह जवाबी फायरिंग में मारा गया।

इस मुठभेड़ में सिपाही और इंस्पेक्टर भी हुए घायल 

बता दें कि इस मुठभेड़ में सिपाही और इंस्पेक्टर मनोज शुक्ला और एसटीएफ का सिपाही भी गोली लगने से घायल हुए हैं। वहीं विकास दुबे अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। फिलहाल पुलिस की कई टीम उसकी तलाश में जुटी हुई है। जल्द ही वो भी पुलिस की गिरफ्त में होगा और उसको उसके किए की सजा मिलेगी। फिलहाल पुलिस इस पूरे प्रकरण की गहन तफ्तीश में लगी है।

ये भी पढ़े :वारदात से 54 मिनट पहले विकास दुबे ने फोन कर पुलिसवाले को दी थी धमकी- कहा था लाशें बिछा दूंगा 

- Advertisement -

More articles

Latest article