भूमि पूजन से पहले ही बज रही खतरे की घंटी, अब मुहूर्त निकालने वाले पुजारी को मिली ऐसी धमकी

1762
ayodhya bhumi pujan

अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir) के भूमि पूजन को लेकर ज्यादातर तैयारियां हो चुकी हैं. पूरी नगरी को दुल्हन के जैसे सजा दिया गया है. दीपावली से पहले ही राम जन्मभूमि में उत्सव का माहौल है. लोग 5 अगस्त को होने वाली भूमि पूजन का इंतजार बेसब्री से कर रहे हैं. क्योंकि जल्द ही लोगों के राम मंदिर बनने वाले सपने की पहली सीढ़ी पर कदम रखा जाने वाला है. इस बीच अचानक से आई एक और खबर ने लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया है. दरअसल ताजा जानकारी की माने तो अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन का मुहूर्त बताने वाले पुजारी को धमकी मिली है.

ये भी पढ़ें:- उमा भारती की टेंशन, शाह के कोरोना पॉजिटिव होने पर PM को लेकर जताई चिंता, भूमि पूजन में शामिन न होने..

कहा जा रहा है कि ये धमकी पुजारी को कर्नाटक के बेलगावी में मिली है. इस खबर का स्पष्टीकरण खुद बेलगावी की पुलिस ने किया है. उनका कहना है कि 75 साल के विजयेंद्र को फोन पर धमकी दी गई है. जिसके खिलाफ बेलागवी के तिलकवाड़ी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कर ली गई है. इस धमकी के बारे में बात करते हुए पुजारी विजयेंद्र ने कहा, ‘उन्हें फोन कर धमकी देने वाले ने कहा कि आखिर आपने मुहूर्त की तारीख क्यों बताई? क्यों इस पूजन में आप शामिल होने के लिए जा रहे हैं? इसके जवाब में मैनें फोन करने वाले को कहा कि क्योंकि मुझसे मुहूर्त निकालने के लिए आग्रह किया गया था. जिसका मैनें पालन किया. उस दौरान एक गुरु होने के नाते मैंने सिर्फ अपना कर्तव्य निभाया है. उन्होंने बताया कि फोन करने वाले ने अपने बारे में तो कुछ नहीं बताया. लेकिन ऐसे फोन अक्सर मेरे पास कई जगहों से आते रहते हैं जिसे मैं गंभीरता से नहीं लेता.’

फिलहाल धमकी मिलने के बाद बेलगावी के शास्त्री नगर में पुजारी के आवास पर सुरक्षा के लिहाज से पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है. क्योंकि पुलिस की ओर से ये बयान दिया गया है कि कॉल करके धमकी देने वालों ने विद्वान को मुहूर्त की डेट को वापस लेने के लिए कहा था, जो उन्होंने भूमि पूजन कार्यक्रम को लेकर निकाला है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विजयेंद्र काफी लंबे सालों से भगवान राम जन्मभूमि से जुड़े आंदोलन का हिस्सा रहे हैं. ऐसे में जब मंदिर के भूमि पूजन के मुहूर्त को लेकर बात उठी तो फरवरी में आयोजकों ने उनसे इसके लिए संपर्क किया था. जिसके बाद विजयेंद्र ने इसके लिए 4 मुहूर्त बताए थे. एक 29 जुलाई, दूसरा 31 जुलाई, तीसरा 1 अगस्त और चौथा 5 अगस्त था. खास बात तो ये थी कि ये सारी डेट सावन के पवित्र महीने में पड़ रही हैं. फिलहाल कोरोना महामारी के आंतक के बीच विजयेंद्र भूमि पूजन कार्यक्रम में शिरकत करने नहीं पहुंच पाएंगे.

ये भी पढ़ें:- भूमि पूजन से पहले दुल्हन की तरह सजी अयोध्या, जायजा लेने पहुंचे सीएम योगी..लोगों से की खास अपील