पूर्व कमिश्नर असीम अरुण के भाजपा में शामिल होने पर तल्ख हुए अखिलेश, चुनाव आयोग से करेंगे शिकायत

0
73
Akhilesh yadav

लखनऊ। कानपुर के पूर्व कमिश्नर असीम अरुण के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव का तल्ख बयान आया है। उन्होंने प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि वह इस संबंध में चुनाव आयोग से शिकायत करेंगे कि असीम के साथ भाजपा में शामिल हुए सभी पुलिस अधिकारियों को हटाया जाए क्योंकि इससे चुनाव प्रभावित हो सकता है। अखिलेश यादव ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि असीम अरुण के आज भाजपा में शामिल होने से साबित हो गया है कि वर्दी में कैसे कैसे लोग छुपे हुये हैं। भारतीय पुलिस सेवा से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले कर असीम अरुण रविवार को भाजपा में शामिल हुए हैं। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली। बताया जा रहा है कि असीम अरुण को भाजपा उनके गृह जनपद कन्नौज से विधानसभा चुनाव का उम्मीदवार बनायेगी।

Akhilesh Yadav

अखिलेश ने कहा कि मैंने पंचायत चुनाव के समय ही कहा था कि ये चुनाव भाजपा की तरफ से पुलिस अधिकारी लड़ रहे हैं। आज मेरी वह बात सच साबित हो रही है। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि अरुण के साथ पिछले पांच साल में जितने अधिकारियों ने काम किया, उनकी पहचान कर चुनाव आयोग उन अधिकारियों को चुनाव प्रक्रिया से हटाये। अखिलेश यादव ने कहा कि अगर आयोग ऐसा नहीं करता है तो निष्पक्ष चुनाव कराने के उसके दावे पर सवाल खड़ा होगा।

सर्वाधिक झूठ बोलने वाले सीएम हैं योगी : अखिलेश

मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ को सर्वाधिक झूठ बोलने वाला मुख्यमंत्री करार देते हुये अखिलेश ने कहा कि जो मुख्यमंत्री पूरे कार्यकाल कहता रहा हो सबका साथ सबका विकास वह मुख्यमंत्री अब 80 बनाम 20 की बात करने लगे हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि इससे पता चलता है कि योगी से ज्यादा झूठ नहीं कोई नहीं बोलता है। उन्होंने एक बार फिर कहा कि योगी भाजपा के सदस्य ही नहीं हैं।

भाजपा वाले डिप्रेशन में हैं : सपा

अखिलेश यादव ने सपा में भाजपा से तमाम मंत्रियों और विधायकों के शामिल होने पर कहा कि भाजपा वाले अब डिप्रेशन में चले गये हैं। भाजपा वाले डेमेज कंट्रोल में लगे हैं। सपा अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि भाजपा के हक में झूठे सर्वे दिखाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि जमीनी सच्चाई यह है कि भाजपा वालों को जनता अब पीट रही है। गांवों में प्रचार करने से कतरा रहे हैं।

यह भी पढ़ेंःसपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान, अखिलेश ने सीएम योगी पर उठाये सवाल