Wednesday, December 8, 2021

जिन्ना से पटेल की तुलना ‘शर्मनाक‘, ‘तालिबानी मानसिकता‘ वाले बयान पर अखिलेश माफी मांगें : योगी

Must read

- Advertisement -

लखनऊ। विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक बयानों की तल्खी अब बढ़ने लगी है। तुष्टीकरण को लेकर दिये गये बयानों पर राजीतिक दल एक-दूसरे पर सीधा प्रहार करने लगे हैं। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव के एक बयान को लेकर विवाद तल्ख हो गया है। अखिलेश यादव ने रविवार को एक जनसभा में मोहम्मद अली जिन्ना को सरदार पटेल और महात्मा गांधी की तरह ही आजादी का नायक बताया है। अखिलेश के इस बयान को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘शर्मनाक‘ और ‘तालिबानी मानसिकता‘ वाला बताया है। इसके साथ ही सीएम योगी ने अखिलेश से माफी मांगने की बात भी कही है।

- Advertisement -

सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी प्रमुख ने कल जिन्ना और सरदार पटेल की तुलना की है। ये शर्मनाक है। ये तालिबानी मानसिकता है जो बांटने में विश्वास रखती है। सरदार पटेल ने देश को एक सूत्र में पिरोया था.‘ उन्होंने कहा कि अखिलेश को अपने इस बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। ऐसी तुलना नहीं होनी चाहिए।

अखिलेश ने कही थी ये बात

रविवार को हरदोई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने ये बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि ‘सरदार पटेल जमीन को पहचानते थे और जमीन को देखकर फैसले लेते थे, वह जमीन को समझ लेते थे तभी फैसला लेते थे, इसीलिए आयरन मैन के नाम से जाने जाते थे। सरदार पटेल जी, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था में पढ़ कर बैरिस्टर बन कर आए थे. एक ही जगह पर पढ़ाई लिखाई की. वो बैरिस्टर बने उन्होंने आजादी दिलाई अगर उन्हें किसी भी तरह का संघर्ष करना पड़ा होगा तो वो पीछे नहीं हटे’।

यह भी पढ़ेंः-अफगानिस्तान से लड़की ने भेजा काबुल का पवित्र जल, रामलला का YOGI ऐसे करेंगे अभिषेक

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article