AKHILESH YADAV

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव पहले सियासी बयानबाजी तेज हो गयी है। एक तरफ मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ में अपने अभियान की शुरुआत की तो वहीं लखनऊ में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने प्रेसवार्ता की। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा इस सरकार के 4-5 महीने बचे हैं, जो करना हो कर लो। अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी में बीजेपी का सफाया होने जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी को अपनी सरकार का हाल पता है इसलिए मुखिया की भाषा बदल गई है। समाजवादी पार्टी प्रमुख बोले कि सरकार के पास अपना काम गिनाने को कुछ नहीं है। इसलिए दूसरे राज्य और देश के काम की तस्वीरें लगा रहे हैं। एक भी काम ऐसा नहीं है, जिसका खुद ही शिलान्यास और उद्घाटन किया हो। समाजवादी पार्टी के प्रमुख ने कहा कि सरकार गरीबों की झोपड़ी तोड़ रही है और घरों को नुकसान पहुंचा रही है। इस सरकार को अपना चुनाव चिन्ह भी बुलडोजर रख लेना चाहिए।

पीएम मोदी के आरोपों का अखिलेश ने दिया जवाब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ की रैली में अखिलेश यादव की सरकार पर हमला किया था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश यादव ने इस आरोप पर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को साल 2017 से पहले का डाटा निकलवा लेना चाहिए या फिर यूपी सरकार को टॉप 10 माफियाओं की सूची जारी करनी चाहिए। अखिलेश यादव ने कहा कि आने वाले समय में उत्तर प्रदेश से बीजेपी का सफाया होने वाला है। ये सरकार बच्चों को साबुन और शैंपू से नहलवाती है। भाजपा की सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया, महंगाई-बेरोजगारी के मसले पर बदहाली फैलाई है।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव एक्टिव हैं। समाजवादी पार्टी में लगातार कई नेताओं की एंट्री हो रही है। मंगलवार को भी पूर्व सांसद यशवीर सिंह और बसपा नेता शेख सुलेमान समाजवादी पार्टी में शामिल हुए।

यह भी पढ़ेंः-भाजपा हाईकमान ने सांसदों को दिया निर्देश, विधानसभा चुनाव के लिए प्रदेश में करें ये काम