Categories
उत्तर प्रदेश लखनऊ

मोदी की रैली में हंगामा की साजिश रचने वालों पर कार्रवाई, पांचों को सपा से निकाला, BJP ने कही ये बात

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कानपुर रैली में हिंसा की साजिश रचने वाले पांचों समाजवादी पार्टी के नेताओं पर अखिलेश यादव ने बड़ी कार्रवाई की है। अखिलेश यादव ने पांचों आरोपियों को समाजवादी पार्टी से बाहर कर दिया है। कानपुर रैली के दौरान हिंसा की साजिश रचने के आरोप में पुलिस ने इन पांचों को गिरफ्तार भी कर लिया है। ज्ञात हो कि मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर की मेट्रो रेल का लोकार्पण करने के साथ आईआईटी कानपुर के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए थे। इसी दौरान एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें कुछ लोग एक गाड़ी में तोड़फोड़ और आगजनी कर रहे थे। इस गाड़ी पर पीएम नरेंद्र मोदी का पोस्टर लगा हुआ था। वीडियो के सामने आने के बाद पुलिस ने कार्रवाई किया है। पुलिस ने इसे हिंसा फैलाने की साजिश माना और केस दर्ज कर धरपकड़ शुरू कर दी।

पीएम मोदी की सभा में साजिश करने वालों पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सख्ती दिखाई है। सपा मुखिया के निर्देश पर कानपुर कांड के सभी पांचों आरोपियों को पार्टी से निकाल दिया है। भारतीय जनता पार्टी के सपा पर हमला बोलने के फौरन ही समाजवादी पार्टी ने सचिन केसरवानी, अंकुर पटेल, अंकेश यादव, सुकांत शर्मा और सुशील राजपूत को पार्टी से निष्कासित कर दिया है। आरोप है कि समाजवादी पार्टी के नेता अपनी ही गाड़ी में भारतीय जनता पार्टी के झंडे और पीएम मोदी का पोस्टर लगाकर, उपद्रव मचा रहे थे। पहले इस मामले में सपा नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। समाजवादी पार्टी के पांच नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पहले ही कहा था, लाल टोपी खतरा : BJP

कानपुर में हिंसा की साजिश रचने के आरोपी सपा नेताओं को लेकर भाजपा ने समाजवादी पार्टी पर हमला बोला है। भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने तो पहले ही कह दिया था कि ये लाल टोपी खतरे की घंटी है। कानपुर में ऐसा साफ नजर आने भी लगा है। रैली में हिंसा की साजिश ने ये साबित कर दिया।

यह भी पढ़ेंः-पीएम मोदी की रैली में हंगामे की थी साजिश, वीडियो फुटेज से हुआ खुलासा, चार आरोपी गिरफ्तार