दही गुजिया

होली का त्योहार बिना गुजिया के अधूरा सा लगता है। होली आने से कई दिन पहले ही घरों में अलग-अलग तरह की गुजिया बननी शुरू हो जाती हैं। अब तक आपने होली पर मावा, सूजी यहां तक की चॉकलेट गुजिया भी चखी होगी लेकिन आज हम आपको बताते हैं गुजिया की एक ऐसी नई रेसिपी जिसको खाने से आपके मेहमान और घरवाले आपकी तारीफ करते नहीं थकेंगे। इसका नाम है दही गुजिया। जानिए कैसे बनाई जाती है यह होली स्पेशल गुजिया।

इसे भी पढ़ें:- होली पर इन राज्यों में कहीं बरसते है फूल, तो कहीं फेंके जाते हैं अंगारे

सामग्री-
-200 ग्राम उड़द दाल
-1/3 टी स्पून नमक
-25-39 किशमिश
-1 टेबल स्पून बादाम सिल्वर
-15 काजू, टुकड़ों में कटा हुआ
-2 टेबल स्पून कद्दूकस किया हुआ खोया
-4 टेबल स्पून तेल
-4 कप दही
-स्वादानुसार नमक
-1 कप हरी चटनी
-1 कप मीठी चटनी
-1 टी स्पून लाल मिर्च पाउडर
-2 टी स्पून जीरा
-2 टी स्पून चाट मसाला

वि​धि-
दही गुजिया बनाने के लिए आपको दाल को धोकर रातभर भिगोकर रखनी होगी। उसके बाद सुबह दाल का पानी निकालकर पीस लें। दाल का एक गाढ़ा पेस्ट बना लें। अब एक कटोरे में दाल का पेस्ट निकालकर हाथ से फेंट लें। अब इसमें काजू, किशमिश, खोया और बादाम डालकर मिक्स करें। एक प्लेट में गीला कपड़ा फैलाएं और नींबू के साइज़ के बराबर दाल का मिश्रण रख दें। 2.5 – 3 इंच फ्लैट डिस्क लें और इसमें नट्स रखें और उसके बाद इसे फोल्ड कर दें फिर कपड़े की साइड में पलट दें। एक पैन में तेल गर्म करके गुजिया को दोनों तरफ से ब्राउन होने तक तल लें।

दही को सूती कपड़े में बांधकर कुछ देर के लिए लटका दें। दही को फेंटने के बाद इसमें नमक मिलाएं। एक बड़े बर्तन में पानी लें और उसमें नमक डालें। उसके बाद अब सभी गुजिया को पानी में भिगो दें। जब गुझिया पानी में 15 -20 मिनट बाद तैरने लगे तो उन्हें बाहर निकाल लें और हल्के हाथों से दबाकर पानी सूखा लें। फिर एक प्लेट में दही के साथ गुजिया को लगाएं। हरी चटनी और मीठी चटनी डालें और भूना जीरा, लाल मिर्च पाउडर, काला नमक और चाट मसाला डालकर सर्वे करें।

इसे भी पढ़ें:- गन्ने के रस में है सेहत का खजाना, मिलेंगे अनगिनत फायदे