फिल्म ‘प्रेम कैदी’ से बॉलीवुड जगत में कदम रखने वाली एक्ट्रेस करिश्मा कपूर(Karisma Kapoor) ने बहुत सी फिल्में की है। अपने अलग अभिनय के लिए करिश्मा को नेशनल और फिल्मफेयर अवॉर्ड भी पाया है। बता दें कि बॉलीवुड में काम करने वाली कपूर खानदान की पहली बेटी करिश्मा ही थी। एक इंटरव्यू में उनसे सवाल किया गया कि क्या कपूर खानदान की औरतों को फिल्मों में काम करने की मनाही थी तो एक्ट्रेस ने इस सवाल का बड़ी ही बेबाक तरीके से जवाब दिया और सबकी बोलती बंद कर दी।

पूरी तरह से मिथ्या है खबर

इंटरव्यू में करिश्मा से जब ये सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, “मुझे लगता है कि यह एक तरह की मिथ्या थी कि कपूर खानदान की महिलाओं को काम करने की इजाजत नहीं है। मेरी मां और नीतू आंटी सेटल होना चाहती थीं, इसलिए उन्होंने काम करना बंद कर दिया था।”

इस बारे में और बात करते हुए करिश्मा ने कहा कि, “लेकिन हमारे खानदान में गीता बाली जी और जेनिफर जी ने काम किया। मुझे लगता है कि यहां इसलिए बड़ा फासला हो गया था क्योंकि मेरे पापा की बहनों को फिल्मों में काम करने में कोई भी दिलचस्पी नहीं थी।”

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Brut India (@brut.india)

कपूर परिवार की महिलाओं के बारे में बात करते हुए कहा कि, “इसलिए ही यह मिथ्या बन चुकी थी कि कपूर खानदान की महिलाएं फिल्मों में काम नहीं करतीं। और हां फिर वो मैं ही थी जो काम करना चाहती थी और मुझे लगता है कि मेरे परिवार ने मेरा काफी समर्थन भी किया।”

करिश्मा की बहन करीना कपूर ने भी फिल्म ‘रेफ्यूजी’ से सिनेमा जगत में कदम रखा। तो वहीं ऋषि कपूर की बेटी रिद्धिमा कपूर ने अपने एक इंटरव्यू में ये भी कहा था कि जब वह 16 वर्ष की थीं, तभी उन्हें फिल्मों के ऑफर आने लगे थे, लेकिन तब वो लंदन में रहकर अपनी पढ़ाई पूरी कर रही थीं। करीना ने अपनी बहन के करिअर के बारे में बात करते हुए कहा था कि मैनें उन्हें संघर्ष के दिनों में रात रात भर रोते हुए देखा है.

इसे भी पढ़ें-प्रेग्नेंसी की खबरों पर शोएब इब्राहिम ने लगाया Full Stop, चुप्पी तोड़ किया सच का खुलासा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here