अखिलेश ने करहल से किया नामांकन, ये नॉमिनेशन एक मिशन है से दिया ये संदेश

0
371
Akhilesh yadav namankan

मैनपुरी /लखनऊ। विधानसभा चुनाव 2022 में अखिलेश यादव करहल विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। यह उनका पहला चुनाव है। इस सीट से मुलायम सिंह यादव भी विधायक रह चुके हैं। करहल पर 1993 से सपा का कब्जा है। 2002 में सिर्फ एक बार बीजेपी उम्मीदवार को टिकट मिला था। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दिन में 12 बजे मैनपुरी की करहल सीट से नामांकन भरा। इस दौरान जब अखिलेश यादव ने पूछा गया कि बीजेपी इस सीट से अपर्णा यादव को चुनाव मैदान में उतार सकती है तो उन्होंने कहा कि बीजेपी करहल से जिसे भी उतारेगी, उसे हार मिलेगी। करहल सपा का गढ़ मानी जाती है। 1993 से करहल में सपा का कब्जा रहा लेकिन सिर्फ 2002 में इस सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी की जीत हासिल हुई थी। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मैनपुरी के करहल से नामांकन के लिए इटावा से रथ द्वारा मैनपुरी पहुंचे। इस दौरान जगह जगह उनके समर्थकों ने उनका स्वागत किया।

Akhilesh yadav namankan

करहल निकलने से पहले उन्होंने एक ट्वीट के जरिए समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों को संदेश दिया। अखिलेश ने लिखा- ये नॉमिनेशन एक मिशन है। ज्ञात हो कि अखिलेश रविवार को ही अपने गांव सैफई आ गए थे। वहीं से आज वह करहल के लिए निकले हैं। इसके पहले अखिलेश यादव ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा- ये ‘नॉमिनेशन’ एक ‘मिशन’ है क्योंकि यूपी का ये चुनाव प्रदेश और देश की अगली सदी का इतिहास लिखेगा! आइए प्रोग्रेसिव सोच के साथ सकारात्मक राजनीति के इस आंदोलन में हिस्सा लें। नकारात्मक राजनीति को हराएं भी, हटाएं भी!! जय हिन्द!!!

ज्ञात हो कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। नामांकन के लिए सैफई से निकले अखिलेश के साथ पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव और करहल क्षेत्र से सपा विधायक सोबरन सिंह यादव भी हैं। अखिलेश के मैनपुरी आने पर वहां कड़े सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। सरकारी अमला भी अपनी तैयारी पूरी कर चुका है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव भी कलक्ट्रेट पहुंच चुके हैं। उनके साथ विधान परिषद सदस्य अरविंद यादव भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ेंः-जगह और समय बतायें, हम तैयार हैं अमित शाह की चुनौती पर अखिलेश का करारा जवाब