गजब..चुनाव जीतने की खातिर अपने दोस्त की पत्नी उधार लेकर रचाई शादी, ये थी बड़ी वजह

219

सामान्य व सर्वमान्य परिभाषा पर अगर गौर फरमाएं तो मालूम पड़ता है कि हर वो चीज जिसमें कुछ नया कुछ आतुरता है तो उसे खबर की श्रेणी में शामिल किया जा सकता है। इस बीच एक ऐसी ही खबर आज के जमाने की सबसे बड़ी ताकत सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। असल में यह खबर 2 साल पुरानी है, लेकिन इसका जायका इस समय ताजातरीन इसलिए है, चूंकि यह सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है। यह खबर उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के कुंडा क्षेत्र का है, जहां पर एक शख्स पर राजनीति का ऐसा खुमार चढ़ा कि उसने चुनाव जीतने के लिए अपने अजीज मित्र से यह करकर उसकी पत्नी उधार ले ली कि चुनाव जीतने के बाद उसे उसकी पत्नी लौटा देगा। अब अजीज मित्र होने के नाते उसके दोस्त ने उसको अपनी पत्नी से देने से मना तो नहीं किया, लेकिन अंत में जब उसका दोस्त चुनाव जीतने में सफल रहा तो उस शख्स ने अपने दोस्त को उसकी पत्नी लौटाने से साफ इनकार कर दिया और तो और अंत में उससे शादी भी रचा ली।

ये भी पढ़े :बॉयफ्रेंड से शादी रचाने के लिए मुस्लिम से हिंदू बनी ये मशहूर एक्ट्रेस, फैमिली के लिए छोड़ दिया फिल्मी करियर

आखिर क्यों लेनी पड़ी पत्नी उधार
अब यहां पर हम आपको बताते चले कि आखिर वो शख्स शादीशुदा था और तो और उसका एक बच्चा भी था, लेकिन बावजूद उसे आखिर अपने दोस्त से क्यों पत्नी उधार लेनी पड़ी । दरअसल, वो शख्स जिस सीट से वो चुनाव जीतने का ख्वाब देख रहा था, वो पिछड़े वर्ग के लिए आरक्षित सीट थी। अब जब उसे अपने सपनों पर पानी फिरता दिखा तो उसने इसका समाधान तलाशने के लिए अपने दोस्त से उसकी पत्नी उधार मांग ली और उस सीट पर चुनाव लड़वाने का भी फैसला किया। अत: उस शख्स का दांव बिल्कुल सटीक बैठा और वो महिला उस उस सीट से चुनाव जीतने में कामयाब रही। अब जब चुनाव जीतने के बाद साहब के ठाठ बाट में फर्क आ गए तो जनाब अपने मित्र को ही भूल गए और तो और अपने दोस्त को उसकी पत्नी लौटाने से तक इनकार कर दिया, हद तो तब हो गई, जब उस शख्स ने उसकी पत्नी से भी शादी रचा ली।

पीड़ित पति ने किया कोर्ट का रूख
अब जिस पति की पत्नी उसके हाथ से निकल गई तो उसने अपनी पत्नी को पाने के लिए कोर्ट का रूख किया। उसने कोर्ट से गुहार लगाते हुए कहा कि वो और उसका दोस्त साथ में ठेकेदारी का काम करते थे। लेकिन जब उसके दोस्त को चुनाव लड़ने में परेशानी आई तो उसके दोस्त होने के नाते उसकी मदद की, लेकिन उसने उसकी मदद का बेजा इस्तेमाल करते हुए उसी का साथ दगा किया। अब पीड़ित पति का कहना है कि  शरियत के मुताबिक, बिना पति के तलाक दिए किसी गैरमर्द से निकाह करना गैर वाजिब है।

ये भी पढ़े  :कोरोना काल में टीवी की इस पॉपुलर एक्ट्रेस ने रचाई शादी, देखें खूबसूरत तस्वीरें