नागपुर(Nagpur)। नागपुर पुलिस(nagpur police) की इन दिनों सोशल मीडिया(Social media) पर जमकर तारीफ हो रही है. लोग पुलिस के इस मानवीय चेहरे को देखकर हर कोई सराहना कर रहा है. दरअसल, यहां एक ऑटो ड्राइवर को ट्रैफिक पुलिस डिपार्टमेंट ने नियमों का उल्लघंन करने के आरोप में पकड़ा और उस पर 2000 रूपये का जुर्माना लगाया गया। ऑटो ड्राइवर गरीब था और उसके पास फाइन भरने के पैसे नहीं थे। जिसके बाद वो फाइन भरने के लिए अपने बच्चे का पिगी बैंक लेकर सीधे ट्रैफिक डिपार्टमेंट के ऑफिस पहुंचा और चालान जमा कराने की कोशिश की।

बता दें कि नागपुर के सिताबुल्दी इलाके में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर रोहित खडसे(rohit khadse) नाम के एक ऑटोवाले पर सीनियर पुलिस ऑफिसर अजय मालवीय(Ajay malviya) ने 2000 रुपये का जुर्माना लगा दिया था। जिसके बाद पुलिस ने उसका ऑटो जब्त कर लिया और उसे जुर्माने के पैसे जमा कराने को कहा। क्योंकि ऑटो ड्राइवर गरीब था इसलिए वो घर गया और अपने बेटे का गुल्लक लेकर थाने पहुंचा।

वहीं रोहित उदास चेहरा लेकर गुल्लक के साथ थाने पहुंचा. उसे उदास देखकर अफसर ने उससे गुल्लक लाने की वजह पूछी, तो ऑटो ड्राइवर रोहित ने बताया कि उसके पास जुर्माना भरने के पैसे नहीं थे जिस कारण मजबूरी में उसे अपने बेटे की गुल्लक लेकर आनी पड़ी ताकि वह फाइन भर सकें. उसकी ये बात सुनकर पुलिस अफसर का दिल पसीज गया और उन्होंने ऑटो ड्राइवर का जुर्माना अपने पैसों से भरा। यही नहीं, उन्होंने ड्राइवर के बेटे को बुलाकर उसका गुल्लक भी वापस किया। उनकी इस मानवीयता की हर कोई तारीफ कर रहा है.

 वहीं पुलिस अफसर अमित मालवीय ने बताया कि ‘ऑटो ड्राइवर ने नो पार्किंग में रिक्शा पार्क किया था, इसलिए उस पर 200 रुपए का फाइन लगाया गया। जांच में पता चला कि रोहित के नाम पर पहले से 2 हजार रुपए का चालान बकाया था, इसलिए उसका ऑटो सीज कर लिया गया। उन्होंने बताया कि रोहित 5 और 10 रुपए के सिक्के और कुछ छोटे नोट लेकर चालान भरने पहुंचा था। चालान भरने के साथ उससे वादा भी लिया है कि वह आगे से ऐसी हरकत नहीं करेगा और ट्रैफिक नियमों को कड़ाई से मानेगा।’

 इसे भी पढ़ें-KBC दर्शकों का इंतजार हुआ खत्म, 3 दिन बाद शुरु होगा शो, इस बार ये होगा खास