Free Condom To Kids

बच्चों को जिस उम्र में अपने शरीर के बारे में अच्छे से पता भी नहीं होता उन्हें उस उम्र में अमेरिका के शिकागो (Chicago) में कंडोम दिया जाना है। शिकागो की नई पॉलिसी के अनुसार यहां प्राइमरी स्कूलों में 5वीं कक्षा (Free Condom To Primary Kids) के छात्रों के हाथों में कंडोम थमाया जाएगा। इतनी कम उम्र में कंडोम देने की इस शुरुआत पर माता-पिता नाराज हो गए हैं। शिकागो के प्राइवेट स्कूलों में जब अगले महीने बच्चे लौटेंगे तो उन्हें कंडोम दिया जाएगा। गर्भनिरोधक और सुरक्षित यौन संबंध के इस साधन को स्कूल में उन्हें दिया जाएगा जिससे जिन्हें इसकी आवश्यकता हो वे प्रयोग कर सकें। यहां के कई स्कूलों में छात्रों को कंडोम दिए जाने की शुरुआत की गई है। जिसको लेकर विवाद भी हो रहा है।

शिकागो सनटाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, महामारी के बाद अगले महीने पहली बार जब स्कूल खुलेंगे तो स्टूडेंट्स के लिए स्कूल में कई प्रकार के सामान उपलब्ध कराये जाएंगे, जो पहले उपलब्ध नहीं थे। अब उन्हें हैंड सैनिटाइजर्स, वाइप्स, मास्क के साथ थर्मामीटर, एयर प्यूरिफाइयर्स भी दिए जाएंगे। साथ ही शिकागो के सभी निजी स्कूलों में कंडोम और लड़कियों के लिए सेनेटरी पैड भी उपलब्ध कराये जाएंगे।

असल में, पिछले साल दिसंबर में शिकागो निजी स्कूल बोर्ड ऑफ एजुकेशन ने नई नीति बनाई थी। इसमें प्रावधान किया गया था कि सभी स्कूलों के स्टूडेंट्स को फ्री में कंडोम और सेनेटरी पैड दिए जाएंगे। ये सामान पांचवीं और इससे ऊपर के सभी क्लास के बच्चों के लिए होगा। इसे सेक्स एजुकेशन का हिस्सा भी बताया जा रहा है। स्कूल में पढ़ने वाले कई बच्चों के पेरेंट्स ने इसका विरोध भी किया है और कहा है कि इतने छोटे बच्चों को इन साधनों के बारे में बताने की जरूरत नहीं है।

हाल ही में मैनहट्टन के प्राइवेट स्कूल में बच्चों के लिए ‘पोर्न साक्षरता’ क्लास का आयोजन किया गया था। ज्ञात हो है कि दुनियभार में वर्तमान में स्कूली पाठ्यक्रम में यौन शिक्षा को शामिल किया जा रहा है। विशेषज्ञ बढ़ती उम्र के बच्चों के लिए इसे जरूति बताते हैं, क्योंकि किशोरो में तेजी से शारीरिक और मानसिक परिवर्तन होते हैं और इसके लिए उन्हें सही सलाह और शिक्षा की जरूरत होती है।

इसे भी पढ़ें:- करीना कपूर की दूसरी प्रेग्नेंसी का फोटोशूट हो रहा वायरल, तस्वीरों में बेहद बोल्ड लुक में नजर आई थी एक्ट्रेस, देखें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here