एंबुलेंस से जा रही गर्भवती महिला को शेरों ने घेरा, तो डॉक्टरों ने ऐसे कराई डिलीवरी, देखें हैरान करने वाली तस्वीरें

0
641
Ambulances surrounded by lions

कोरोना संकट के चलते पूरे देश में लॉकडाउन है. ऐसे में जगंली जानवर खुलेआम निकलकर घूमने लगे हैं. जिनकी कई वीडियो और फोटो को देखा जा चुका है. लेकिन इसी बीच हाल ही में आई एक खबर ने लोगों को हैरान कर दिया है. दरअसल गुजरात में एंबुलेंस से जा रही महिला को शेरों ने पूरी तरह से घेर लिया तो उसे गाड़ी में ही बच्चे को जन्म देना पड़ा. ये चौंकाने वाला पूरा मामला गढड़ा के भाका गांव का है. जहां पर चलती एंबुलेंस को शेरों ने घेरा तो मजबूरन महिला की डिलीवरी गाड़ी में ही करवानी पड़ी. इसके बाद काफी मशक्कत के बाद शेरों ने रास्ता छोड़ा तो महिला को अस्पताल ले जाया गया, जहां पर मां और बच्चा दोनों अभी स्वस्थ हैं.

ये भी पढ़ें:- जिस बेटे को मृतक समझकर 3 साल पहले ही कर दिया दाह संस्कार, लॉकडाउन के बीच हो गया चमत्कार

बताया जा रहा है कि ये खबर बीते 20 मई की रात करीब 10, 10:30 बजे के आसपास की है. जब गढड़ा के भाखा गांव की अफसाना सबरिश रफीक को लेबर पेन शुरू हो गया. उस समय दर्द की वजह से महिला की हालत काफी खराब हो गई थी. इसके बाद महिला की दर्दनाक हालत को देखते हे घरवालों ने 108 नंबर पर फोन किया और एंबुलेंस बुलवाई. Ambulances are surrounded by lionsऐसे में मौके पर पहुंची एंबुलेंस जब महिला को लेकर अस्पताल के लिए जाने लगी तो गांव से कुछ ही दूर पर गिर गढड़ा से उनके के रास्ते में 4 बब्बर शेर गाड़ी के रास्ते में आ गए और घेर लिया.

शेरों को देखकर उस समय लोगों को ऐसे एहसास हो रहा था कि जैसे वो एंबुलेंस को रोकने की कोशिश कर रहे हैं. ऐसे में चार शेरों को देखने के बाद किसी ने गाड़ी से बाहर निकलकर रिस्क लेने तक की हिम्मत नहीं जुटाई. क्योंकि इस दौरान सिर्फ एक शेर नहीं बल्कि पूरा का पूरा झुंड एक साथ खड़ा था. साथ ही रात भी काफी ज्यादा हो चुकी थी. इतना ही नहीं उस समय महिला दर्द के मारे कराह रही थी. Ambulances are surrounded by lionsजिसे उस समय अस्पताल पहुंचाना जरूरी भी था. लेकिन काफी देर तक जब शेर नहीं हटे तो एंबुलेंस में सवार ईएमटी जगदीश मकवाना और पायलट भरत अहीर ने थोड़ा हिम्मत से काम लेते हुए महिला की डिलीवरी एंबुलेंस के के अंदर ही करवा दी. इस दौरान महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया.

इस दौरान जो सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात थी वो ये कि, जब तक महिला ने बच्ची को जन्म नहीं दिया था तब तक शेरों ने एंबुलेंस को चारों तरफ से घेरा था. Ambulances are surrounded by lionsलेकिन जैसे ही बच्ची का जन्म हुआ उसके बाद ये सारे शेर खुद ही गाड़ी का रास्ता छोड़कर चले गए. जिसके बाद एंबुलेंस के स्टाफ ने मां और बच्ची को गिर गढड़ा के अस्पताल पहुंचाया. फिलहाल दोनों सुरक्षित और स्वस्थ हैं.

ये भी पढ़ें:- अस्पताल के एक ही वार्ड की 9 नर्सें एक साथ हुईं प्रेग्नेंट, सच्चाई जानकर आप भी रह जाएंगे दंग