शादी के 22 महीने बाद पत्नी ने नहीं बनाए शारीरिक संबंध, तो परेशान पति ने उठाया बड़ा कदम

19390
Even after 22 months no physical relationship

शादीशुदा जिंदगी को लेकर कई ऐसे किस्से सामने आते हैं जो लोगों को हैरत में डाल देते हैं. हाल ही में जो मामला सामने आया है वो भी कुछ ऐसा ही है. जहां एक पति ने सिर्फ इसलिए बड़ा कदम उठा लिया क्योंकि, उसकी पत्नी ने शारीरिक संबंध बनाने की इजाजत नहीं हुई. जी हां, ये हैरतगंज मामला गुजरात के अहमदाबाद से सामने आया है. बेटे की मौत के बाद उसकी मां ने अपनी बहू के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

22 महीने से नहीं बनाए संबंध
परेशान पति का मामला शहर के मणिनगर का है. जहां सुरेंद्र सिंह की शादी 22 महीने पहले 2018 में 32 साल की महिला गीता परमार के साथ हुई थी. पर शादी के बाद एक दिन भी पत्नी ने पति के साथ संबंध नहीं बनाए और इसी बात को लेकर सुरेंद्र तनाव में था. जब बार-बार मनाने पर भी पत्नी राजी नहीं हुई तो पति ने आत्महत्या कर ली. बेटे की मौत से दुखी मां ने बहू के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

सास ने बहू के खिलाफ दर्ज शिकायत में बताया कि, उसने खुद देखा था दोनों अलग-अलग सोते हैं. इस पर जब उसने अपने बेटे से इस बारे में बात की तो बेटे ने कहा कि, शादी के 22 महीने बाद भी गीता ने एक बार भी संबंध नहीं बनाए. बेटे ने अपनी मां को बताया था कि, गीता ने पति के साथ नहीं सोने की शपथ ली है.

पति और पत्नी ले चुके हैं तलाक
सास के मुताबिक, उसका बेटा रेलवे का कर्मचारी थी और अक्टूबर 2018 में दोनों की शादी हुई थी. इससे पहले सुरेंद्र की शादी हुई थी लेकिन पहली पत्नी से 2016 में तलाक ले लिया था इसके बाद गीता भी सुरेंद्र से पहले दो बार शादी कर चुकी थी और दोनों पति से तलाक हो चुका था. शादी के 22 महीने बीत जाने के बाद जब गीता ने अपने पति को करीब नहीं आने दिया तो आए दिन दोनों के बीच तनाव होने लगा और लड़ाई-झगड़े होने लगे. लड़ाई से तंग आकर गीता ससुराल छोड़कर अपने मायके चली गई थी और जब परिवार के लोग 27 जुलाई को किसी के अंतिम संस्कार में गए तो उनके पीछे से घर पर अकेले सुरेंद्र ने पंखे से लटककर फांसी लगा ली. बेटे की मौत के बाद से ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.

ये भी पढ़ेंः- गजब! पालतू बिल्ली ने किया महिला को प्रेग्नेंट, पीड़ित शख्स ने सुनाया दर्द