दरोगा जी के पीछे पड़ी प्रेमिका, पुलिसवाले बने बाराती, मलमास में रचाना पड़ा ब्याह

1298
banka poilce marriage

प्यार की अजब-गजब कहानियां और किस्से अब किताबों में ही नहीं बल्कि असल जिंदगी में देखने को मिलते हैं. अब हाल ही का मामला देख लीजिए जहां दरोगा जी को मलमास में ही प्रेमिका से शादी रचानी पड़ी और जो बवाल हुआ उसकी तो बात ही अलग है. दरअसल, बांका जिला पुलिस बल में तैनात 2018 बैच के प्रशिक्षु दरोगा छोटू कुमार का प्रेम प्रसंग अपने गृह जिला शेखपुरा बाजार निवासी काजल कुमारी से प्रेम प्रसंग चार सालों से चल रहा था. हालांकि चार साल पहले छोटू नौकरी नहीं करते थे और जैसे ही बिहार पुलिस में दरोगा पद पर तैनात हुए तो परिजनों ने शादी की तैयारियां शुरू कर दी और प्रेमिका से नहीं बल्कि किसी दूसरी लड़की से.

ये भी पढ़ेंः- किशोर दा ने रचाई चार शादियां, मधुबाला के लिए बदला धर्म और नाम, फिर हुआ दुखद अंत

प्रेमिका पहुंच गई थाने
अब जब शादी की सूचना प्रेमिका को मिली तो वह सीधा पहुंची बांका और जिला पुलिस कप्तान अरविंद कुमार गुप्ता से मिलकर चार सालों की पूरी प्रेम कहानी सुना दी.bihar daroga ji shadi साथ ही न्याय की गुहार लगाई. बात अगर दरोगा जी की प्रेमिका की करें तो वह इस समय नवादा जिले के रजौली में एएनएम ट्रेनिंग कर रही हैं.

पुलिस महकमे में खलबली
प्रेमिका के बांका पहुंचने और मामले की जानकारी पुलिसवालों को मिलते ही अधिकारियों में खलबली मच गई. जिला के बड़े साहब ने भी नाराजगी जताई और पुलिस अधिकारियों के दबाव में आकर दरोगा जी प्रेमिका संग ब्याह रचाने के लिए तैयार हो गए.daroga ji shadi kajal ये बात जब परिजनों को मालूम हुई तो वह शादी में शामिल नहीं हुए लेकिन लड़की के परिजन शादी में मौजूद थे. दरोगा जी और काजल की शादी जल्दबाजी में मलमास में ही अमरपुर थाना स्थित हनुमान मंदिर में कराई गई. तब जाकर मामला शांत हुआ.

पुलिस वाले बने बाराती
काजल और दरोगा जी की शादी में अमरपुर थाना के थानाध्यक्ष समेत कई पुलिसकर्मी बाराती बने और इंस्पेक्टर वकील प्रसाद यादव, थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय,shadi दरोगा विजय शंकर सिंह समेत कई लोग इस आनन-फानन में हुई शादी के गवाह बने. शादी होने के बाद मिठाई बांटी गई और काजल अपने दरोगा जी के साथ शादी कर खुश हो गई.

ये भी पढ़ेंः- 36 की उम्र में दलित विधायक ने 17 साल छोटी लड़की से की शादी, पुजारी ने लगाए आरोप