22 साल का शख्स नदी में डूबने लगा, तभी 12 साल के लड़के ने लगाई छलांग, फिर क्या हुआ? देखें video

250

आमतौर पर हौंसलों की पैमाइश उम्र के दायरे में होती है, लेकिन जो लोग इन दायरों पर विश्वास रखते हैं, हमें पूरा यकीन है कि हमारी इस खबर को पढ़ने के बाद आपका उन दायरों पर से विश्वास उठ जाएगा। आप यकीनन इस बात पर यकीन करने पर बाध्य हो जाएंगे कि उम्र और हौंसलों का कोई मेल नहीं है। इस बात की तस्दीक हम या फिर हमारी यह खबर नहीं बल्कि महज 12 साल का वो लड़का कर रहा, जिसने देवदूत बनकर 22 साल के लड़के की जान बचाई है। उफनती नदी में सराबोर होकर जब महज 22 साल का लड़का जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहा था, तो उस वक्त फरिश्ता बन वो 12 साल का लड़का न आव देखा न ताव, सीधा उफनती नदी में छलांग लगा दी और फिर उसकी जान बचाई। चश्मदीद इस पूरे वाकये को देख हैरत में पड़ गए है। सभी के सभी उस लड़के को देखते ही रह गए।

ये भी पढ़े :सड़क के अभाव में नहीं पहुंची एंबुलेंस, टोकरी में बैठाकर गर्भवती महिला को कराया नदी पार, देखें video

खैर, कैसे भी करके 12 साल के लड़के ने नदी में डूब रहे शख्स को बाहर निकाला। इसके बाद वहां मौजूदा लोगों ने उसे फौरन अस्पताल पहुंचाया, जहां पर उसका उपचार किया गया। फिलहाल अब उस लड़के की हालत स्थिर बताई जा रही है। उधर, लड़के के इस कारनामे को देखकर हर कोई दंग रह गया। बता दें कि यह घटना नैनीताल के रामनगर की है। इस पूरे मामले को लेकर एसएचओ रवि सैनी ने कहा कि एक शख्स उफनती हुई नदी में कूद गया।

इसके बाद वो मदद की गुहार लगाता रहा। उस शख्स की गुहार सुनने के बाद 12 वर्षीय लड़का सनी ने फौरन नदी में छलांग लगा ली और उसकी  जान बचाई। फिलहाल उस शख्स की हालत स्थिर है। उधर, इस पूरे मामले को लेकर एक चश्मदीद ने भी कहा कि 12 वर्षीय लड़का सनी अपने दोस्त के साथ खड़ा था और जब इस लड़के ने उस डूबते हुए शख्स की गुहार सनी तो उसने न आव देखा न ताव, और फौरन नदी में कूद गया। चश्मदीद के मुताबिक, अब उस शख्स की हालत स्थिर है।

ये भी पढ़े :आखिर कैसे बने थे दिशा पाटनी के बैक पर कप के निशान, जानें वायरल वीडियो की ये सच्चाई