जब सड़क हादसे में बेटे को खोया तो पिता ने तेरहवीं मेें आने वाले हर शख्स को बांटा हेलमेट 

0
136
Loading...

जब एक पिता ने सड़क हादसे में अपने बेटे को खो दिया तो उसने दृढ़ संकल्प लिया कि अब सड़क हादसे की वजह से  किसी को मेरी तरह अपना बेटा न खोना पड़े, लिहाजा उसने अपने बेटे की तेरहवी में आए हर एक शख्स को हेलमेट बांटे। यहां पर हम आपको बताते चले कि मध्यप्रदेश के दमोह जिले के तेजगढ़ निवासी शिक्षक पिता महेंद्र दीक्षित व माता ज्योति दीक्षित ने अपने बेटे लकी की तेरहवी में 51 लोगों को हेलमेट बांटे। ये भी पढ़े :दिल्ली गेट के पास हुआ सड़क हादसा, एक के ऊपर एक रखे हुए मिले शव, मृत युवकों का मोबाइल भी हुआ चोरी

बता दें कि गत 21 नवंबर को लकी बिना हेलमेट के बाइक चला रहा था, मगर किसी कारण से भैंस से टकरा गया, जिसके बाद वो पुल से नीचे गिर गया और उसकी मौत हो गई। इस बीच, लकी के पिता महेंद्र कहते हैं कि अगर उनके बेटे ने हेलमेट पहना होता तो उसकी जान बच सकती थी, लेकिन मेरे बेटे ने हेलमेट नहीं पहना था, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। वहीं, तेरहवी में आए सभी लोगों ने हेलमेट प्राप्त कर अनिवार्य रूप से बाइक चलाते समय हेलमेट पहनने की बात कही। इसके साथ ही थाना प्रभारी ने कहा कि अभी लोगों को समाज में यातायात नियमों को लेकर जागरूकता की जरूरत है।

Read also :यमुना एक्सप्रेसवे सड़क हादसे में, 8 की मौत, 30 घायल, सीएम योगी ने जताया दुख

Read also :उन्नाव सड़क हादसे पर सपा नेता का बड़ा खुलासा, साजिश नहीं महज एक हादसा

Loading...

अपनी राय दें