हैदराबाद: डॉक्टर से रेप के आरोपियों की जेल में हुई आवभगत, डिनर में परोसा गया मटन करी

0
3218
mutton chiken heydrabad
Loading...

हैदराबाद से आई दुष्कर्म की खबर ने हर महिला को अंदर से झकझोर कर रख दिया. लोग डॉक्टर प्रियंका रेड्डी को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर निकल गए हैं. लोग शासन-प्रशासन से लेकर संसद तक अपनी बात पहुंचा रहे हैं और आरोपियों को फांसी देने की मांग कर रहे हैं. एक तरफ जहां लोगों के अंदर गुस्सा और गम भरा हुआ है तो वहीं जेल में बंद दुष्कर्मियों को लंच में दाल-राइव और डिनर में मटन करी परोसा जा रहा है.

हालांकि जेल मैन्यूअल की माने तो उन्हें जेल के नियम से ये खाना और लंच परोसा गया था. लेकिन इस तरह से इन दुष्कर्मियों की आवभगत करना कहां तक सही हैं. खैर आपको याद होगा कि हैदराबाद में 27 नवंबर के दिन 4 आरोपियों ने मिलकर पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी के साथ रेप किया था. इसके बाद आरोपियों को ये करके भी शांति नहीं मिली, जिसके बाद पहले महिला प्रियंका रेड्डी का गला घोंटकर मारा और फिर पेट्रोल डालकर बॉडी को जला दिया.

इन आरोपियों की पहचान करते हुए पुलिस ने ट्रक चालक मोहम्मद आरिफ, ट्रक चालक चिंताकुंता चेन्नाकेशावुलू, क्लीनर जोलु शिवा और जोलु नवीन को गिरफ्तार किया है. इनमें से आरिफ की उम्र 26 साल है, और बाकी तीनों आरोपियों की उम्र 20 साल है. आप इनकी उम्र से ये पता लगा सकते हैं कि जिनकी उम्र पढ़ने और खेलने खाने की है उनकी मानसिकता इतनी घटिया हो गई है कि इन जैसे अपराधियों को माफ तो नहीं किया जा सकता और न ही इन जैसे अपराधियों को माफ किया जा सकता है, क्योंकि जब तक देश में ऐसी विकृत मानसिकता के लोग रहेंगे, ये देश की बेटियों को यूं ही नोचते रहेंगे. अब जरूरी है सरकार को जल्द से जल्द कड़ा कदम उठाने की और सजा देने की, ये सिर्फ एक बेटी की नहीं बल्कि पूरे हिन्दुस्तान की बेटी की आवाज है.

इस जघन्य अपराध के लिए इन आरोपियों को कोई माफ तो नहीं कर सकता, लेकिन लोगों की यही मांग है कि इन्हें तुरंत फांसी पर चढ़ा दिया जाए. लोग गम में हैं, लोगों में गुस्सा उबल रहा है, महिलाएं अपने हक के लिए अब सड़क पर उतर आई हैं, और सरकार से मांग कर रही हैं कि आखिर उन्हें सुरक्षा कब मिलेगी. कब वो अपने आपको सुरक्षित महसूस करेंगी. ये मुद्दा टीआरपी और राजनीति से परे है ये मुद्दा है सम्मान का, इज्जत और रक्षा का, आखिर कब तक शासन-प्रशासन और सरकार यूं हाथ पर हाथ धरे बैठी रहेगी. आखिर कब इन आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई होगी. आखिर और कितनी मासूमों और महिलाओं को इस तरह के अपराध का शिकार होना पड़ेगा.

इस घटना को बीते पूरे पांच दिन हो गए हैं लेकिन आरोपी जेल में बैठकर दाल-राइव और मटन करी खा रहे हैं. हम सरकार से सवाल पूछते हैं कि आखिर कब तक यूं ही देश की बेटियां इन विकृत मानसिकता जैसे दरिंदो का शिकार होती रहेंगी. आखिर इन्हें तुरंत सजा देने का प्रावधान कब बनेगा. हमारी गुजारिश है कि इस मामले में आरोपियों की सजा तय करें और इन जैसी विकृत मानसिकता वालों के दिमाग में ये बिठा दें कि जब भी कोई ऐसा अपराध करने की सोचे भी तो कर न सके. और यदि करे तो उसे ऐसी सजा दें जिसे देश का कोई भी नागरिक भूल न सके.

ये भी पढ़ें:- हैदराबाद रेप और मर्डर का हुआ बड़ा खुलासा, पूरी प्लानिंग के साथ इस हत्या को दिया गया अंजाम 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here