युवराज का चयनकर्ताओं पर ताना, गांगुली पर विश्वास, निकाली भड़ास

0
652
Loading...

एमएस धोनी के पक्ष में बोलते हुए युवराज सिंह ने चयनकर्ताओं पर ताना मारा है. उन्होंने कहा कि कुछ क्रिकेटर थके होने के बावजूद भी टीम में खेलना चाहते हैं. इसके पीछे का कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें अपना स्थान खोने का डर है. वहीं, युवराज ने ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल का उदाहरण देते हुए कहा कि मैक्सनेल ने मानसिक स्वास्थ्य समस्या से ग्रस्त होने के कारण अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से विश्राम लिया था और बकायदा बोर्ड ने उनका समर्थन भी किया था. युवराज ने कहा भारत को बेहतर चयनकर्ताओं की जरूरत है. इसे भी पढ़ें:-संन्यास के इतने दिनों बाद युवराज सिंह का छलका दर्द, कही ऐसी बात कि, छू जाएगी दिल को

चयनकर्ताओं का काम आसान नहीं होता. उन्हें 15 खिलाड़ियों का चयन करना पड़ता है. ऐसे में चयनकर्ताओं को कभी-कभी आलोचना भी झेलना पड़ता है, क्योंकि उनके द्वारा सेलेक्ट किया गया प्लेयर अगर अच्छा प्रदर्शन नहीं करता तो उनपर उंगलियां उठनी शुरू हो जाती है. वहीं, कभी कोई प्लेयर अच्छा प्रदर्शन करता है, लेकिन उसे आराम की अवश्यकता होती है पर वह आराम नहीं करता, क्योंकि उसे लगता है कि कहीं हमारे स्थान पर कोई दूसरा प्लेयर आ जाए तो हमें आगे खेलने का मौका नहीं मिलेगा. इस डर से प्लेयर छुट्टी नहीं लेता.

युवराज सिंह ने कहा, ‘हम इसके हकदार हैं, क्योंकि कई बार हमें क्रिकेट खेलने के लिए कहा जाता है, जबकि हम ऐसा नहीं चाहते. हमें इस दबाव में खेलना होता है कि अगर हम नहीं खेलते हैं तो हमें बाहर कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ियों पर से यह दबाव खत्म होना चाहिए. अगर वे थके हुए हैं या चोटिल हैं, तब भी उन्हें खेलना होगा. हमारे खिलाड़ी ऐसा नहीं कर सकते, क्योंकि उन्हें अपनी जगह गंवाने का डर रहता है. इसे भी पढ़ें:- धोनी की संन्यास की खबरों पर भड़के कोच रवि शास्त्री, लोगों को दिया मुंहतोड़ जवाब

युवराज से जब धोनी को लेकर सवाल किया गया तो युवराज ने चयनकर्ताओं को ताना मारते हुए कहा कि ये सवाल हमसे नहीं बल्कि चयनकर्ताओं से पूछना चाहिए. वहीं, युवराज ने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली पर विश्वास जताते हुए कहा कि उम्मीद है कि इसमें बदलाव आएगा. इसे भी पढ़ें:- इस गेंदबाज ने सचिन तेंदुलकर को बोल्ड कर लिया ऑटोग्राफ, फिर मिला ये जवाब

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here