Wednesday, December 8, 2021

मुस्कराइये… अब आईपीएल की सबसे महंगी टीम है लखनऊ

Must read

- Advertisement -

दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग में दो नई टीमों को प्रवेश मिला है। लखनऊ और अहमदाबाद की टीम आईपीएल 2022 में हिस्सा लेंगी। दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग आईपीएल का का दायरा अब और बढ़ गया है। बीसीसीआई ने लखनऊ और अहमदाबाद टीमों से जबरदस्त कमाई की है। बीसीसीआई ने दो टीमों को बेचकर 12 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की कमाई की है। आईपीएल की सबसे महंगी टीम अब लखनऊ बन गई है। आरपीएसजी ग्रुप ने लखनऊ को 7090 करोड़ रुपये में खरीदा है, जो कि सबसे बड़ी और चैंकाने वाली बोली साबित हुई है। ग्रुप के चेयरमैन संजीव गोयनका हैं। संजीव गोयनका देश के बड़े बिजनेसमैन हैं। आरपीएसजी ग्रुप देश में कई क्षेत्रों में सक्रिय है। जिनमें मुख्य रूप से बिजली, रिटेल, मीडिया, स्पोर्ट्स, एजुकेशन शामिल हैं। ग्रुप की वेबसाइट के मुताबिक, पूरे ग्रुप में करीब 50 हजार कर्मचारी काम करते हैं।

- Advertisement -

 sanjeev goynka

ज्ञात हो कि संजीव गोयनका की ये आईपीएल में वापसी हुई हैं। साल 2016-2017 के सीजन में ग्रुप ने राइजिंग पुणे सुपरजाइंट को खरीदा था। तब आईपीएल से चेन्नई सुपर किंग्स, राजस्थान रॉयल्स को बैन किया गया था। दो साल के लिए संजीव गोयनका की टीम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट से महेंद्र सिंह धोनी जुड़े थे। ज्ञात हो कि पहले सीजन में धोनी को कप्तान बनाया गया लेकिन दूसरे सीजन में हटा दिया गया था। महेन्द्र सिंह धोनी को कप्तानी से हटाये जाने पर काफी विवाद हुआ था। सिर्फ आईपीएल ही नहीं बल्कि संजीव गोयनका ग्रुप की फुटबॉल में भी रुचि है। देश के प्रतिष्ठित क्लब मोहन बागान में ग्रुप का इनवेस्टमेंट हैं। मोहन बागान क्लब इंडियन सुपर लीग में हिस्सा लेता है। इसके अलावा इस ग्रुप का टेबल टेनिस टीम में भी हिस्सा है, जो अल्टीमेट टेबल टेनिस लीग में हिस्सा लेती है।

लग्जमबर्ग की कम्पनी है सीवीसी कैपिटल

अहमदाबाद टीम को सीवीसी ग्रुप ने खरीदा है। सीवीसी कैपिटल लग्जमबर्ग की एक कंपनी है, जो इन्वेस्टमेंट के फील्ड में डील करती है। 1981 में बना ये ग्रुप दुनिया के कई खेलों में इन्वेस्टमेंट कर चुका है और अब क्रिकेट इसके लिए एक नया फील्ड साबित हो रहा है। यही कारण है कि आईपीएल में सीवीसी ग्रुप की एंट्री ने हर किसी को चैंका दिया है। सीवीसी कैपिटल का इस वक्त फॉर्म्यूला वन, फुटबॉल, रग्बी में इन्वेस्टमेंट है। सीवीसी ग्रुप ने फॉर्म्यूला वन की एक टीम में पैसा लगाया था। 2016 तक आते-आते उन्होंने अपने शेयर्स को बेच दिया। अभी रग्बी और स्पेनिश फुटबॉल लीग ला लीगा में सीवीसी कैपिटल ने इन्वेस्ट किया हुआ है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि आईपीएल में इस ग्रुप की एंट्री होना क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग को दुनिया के प्लेटफॉर्म पर रखता है। इस बड़ी राशि से खेलों की दुनिया में बड़ा बदलाव आयेगा।

यह भी पढ़ेंः-IPL की दुनिया में कदम रखेंगे दीपिका और रणवीर, टीम के लिए करेंगे बिडिंग

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article