IPL

दिल्ली। संयुक्त अरब अमीरात में 19 सितंबर से फिर शुरू होने जा रहे IPLमें दर्शकों की वापसी हो गई है। अब स्टेडियम में जा कर दर्शक क्रिकेट मैच का लुत्फ उठा पाएंगे। IPL के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा गया है कि IPL अब फिर स्टेडियम में दर्शकों का स्वागत करने को तैयार है। बायो बबल में कोरोना के मामले आने के बाद IPL-14 को स्थगित कर दिया गया था। 4 मई को लीग के स्थगन के समय कुल 29 मैच हुए थे। शेष मैच को रोक दिया गया था। अब टूर्नामेंट के बाकी बचे मैच संयुक्त अरब अमीरा के तीन स्टेडियमों में खेले जाएंगे। इन मुकाबलों का आनन्द दर्शकों को मिलेगा। दूसरे चरण की शुरुआत रविवार को दुबई में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मुकाबले से होगी। IPL ने बुधवार को जारी बयान में कहा है कि यह मैच एक महत्वपूर्ण अवसर होगा। क्योंकि IPL कोविड-19 स्थिति के कारण एक संक्षिप्त अंतराल के बाद प्रशंसकों का स्टेडियमों में वापसी का स्वागत करेगा।

ज्ञात हो कि IPL के बचे मैच दुबई, शारजाह और अबु धाबी में खेले जाएंगे। IPL की जारी विज्ञप्ति के मुताबिक कोविड प्रोटोकॉल और यूएई सरकार के नियमों को ध्यान में रखते हुए सीमित संख्या में दर्शकों को प्रवेश मिलेगा। प्रशंसक शेष टूर्नामेंट के लिए 16 सितंबर से आधिकारिक वेबसाइट पर टिकट खरीद सकते हैं। 15 अक्टूबर को टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला खेला जाएगा.

2019 के बाद IPL में दर्शकों की वापसी

2019 के बाद पहली बार IPL दर्शकों के सामने खेला जाएगा। पिछले साल लीग यूएई में दर्शकों के बिना खेली गई थी, जबकि 2021 चरण का पहला हाफ भी कड़े बायो-बबल में खेला गया था। लीग के आयोजकों ने हालांकि प्रवेश के लिए दर्शकों की सही संख्या को नहीं बताया है लेकिन माना जा रहा कि उनकी उपस्थिति स्टेडियम में दर्शकों की क्षमता का 50 प्रतिशत होगी।

खिलाड़ियों के लिए सख्त दिशा-निर्देश

कैरिबियन प्रीमियर लीग और दक्षिण अफ्रीका-श्रीलंका सीरीज से आने वाले खिलाड़ी अपनी टीमों के बबल में शामिल होने से पहले दो दिन के आइसोलेशन से गुजरेंगे। बबल टू बबल ट्रांसफर का मतलब है कि उन्हें कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए छह दिनों के लिए क्वारंटीन में रहने की आवश्यकता नहीं होगी। दूसरी ओर यूके से यूएई आए खिलाड़ियों को टीम बबल में शामिल होने से पहले छह दिनों के कड़े आइसोलेशन पीरियड से गुजरना पड़ रहा है। अंक तालिका में दिल्ली कैपिटल्स की टीम शीर्ष पर है। दिल्ली ने अब तक आठ में से छह मुकाबले जीते हैं। वहीं सीएसके दूसरे और विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु तीसरे नंबर पर है। सीएसके और आरसीबी दोनों ही टीमों ने अब तक सात में से पांच मुकाबले जीते हैं, जबकि दो में उन्हें हार मिली है।

यह भी पढ़ेंः-आईपीएल के 14वें सत्र में धूम मचाने को तैयार है सिंगापुर का ये क्रिकेटर