ks bharat

नई दिल्ली। इसी साल केएस भरत (KS Bharat) को IPL में डेब्यू का अवसर मिला और केवल 7 मैच में ही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB) के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने यह साबित कर दिया कि वो दबाव में शानदार खेलते हैं। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मुकाबले में तो उन्होंने यह साबित कर दिया। आरसीबी को इस मुकाबले में जीत के लिए आखिरी गेंद पर 5 रन की जरूत थी। केवल छक्का लगाकर ही मैच जीता जा सकता था। किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि IPL का पहला सीजन खेल रहा बल्लेबाज ऐसा कर देगा। मगर भरत अपने कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की उम्मीदों पर खरे उतरे और आवेश खान (Avesh Khan) की आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम को रोमांचक जीत दिला दी।

कोहली भी काफी खुश हो रहे हैं और वो दौड़ते हुए मैदान पर पहुंचे और आंध्र प्रदेश के इस बल्लेबाज को गले लगा लिया। कौन हैं केएस भरत, जिसे विराट कोहली ने IPL के इसी सीजन में डेब्य़ू का अवसर दिया और भरत ने इसे भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। असल में, घरेलू क्रिकेट में आंध्र प्रदेश के लिए खेलने वाले केएस भरत यानी कोना श्रीकर भरत मूल रूप से विशाखापट्टनम के रहने वाले हैं। उनके लिए IPL तक का सफर तय करना किसी सपने के सच होने की तरह है। 2004 में जहीर खान के साथ बातचीत करने वाले एक बॉल बॉय से लेकर IPL में तेज गेंदबाज के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने तक, इंडिया ने काफी लंबा सफर तय किया है।

भरत ने 19 साल की उम्र में किया था डेब्यू

भरत ने 19 साल की उम्र में केरल के खिलाफ 2012-13 डेब्यू किया था। मगर पहली बार 2015 में वो चर्चा में आए, जब वो रणजी ट्रॉफी में तिहरा शतक जड़ने वाले पहले विकेटकीपर बल्लेबाज बने। भरत ने गोवा के खिलाफ फरवरी 2015 में ऐसा किया था। तब उन्होंने आंध्र प्रदेश की ओर से पारी की शुरुआत करते हुए 311 गेंद में 308 रन की शानदार पारी खेली थी। इसी के बाद उन्होंने तेजी से घरेलू क्रिकेट में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज अपनी पहचान बनाई है। अब तक उन्होंने खेले 78 फर्स्ट क्लास मैच में 9 शतक और 23 अर्धशतक के साथ 4283 रन बनाए हैं।

इसी साल आरसीबी ने भरत को खरीदा था

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने 2014-15 के रणजी सीजन में 54 से अधिक के औसत से 758 रन बनाए थे। इसी प्रदर्शन के लिए उन्हें दिल्ली कैपिटल्‍स ने आईपीएल 2015 के लिए 10 लाख रुपए में खरीदा था। मगर ऋषभ पंत की मौजूदगी के चलते भरत कभी भी प्‍लेइंग इलेवन में अपना स्थान नहीं बना पाए। दिल्‍ली ने जब उन्‍हें रिलीज किया तो आरसीबी ने पार्थिव पटेल के ऑप्शन के रूप में उन्हें टीम से जोड़ लिया गया। इस साल आरसीबी ने फरवरी में हुई नीलामी में इस विकेटकीपर बल्लेबाज को 20 लाख रुपए में खरीदा था।

इसे भी पढ़ें:- आशीष के वीडियो साक्ष्यों से संतुष्ट नहीं जांच अधिकारी, किसानों को रौंदने वाली मंत्री की थार का नहीं था बीमा