कपिलदेव ने विराट कोहली और BCCI को दी सलाह, ऐसे करें समाधान

0
130
kapil dev health update

नई दिल्ली। विराट कोहली और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के बीच चल रहे विवाद के बीच पूर्व कप्तान कपिल देव ने दोनों को एक सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि बीसीसीआई और कोहली को आपस में बात करके मामले को सुलझाना चाहिए। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि दोनों के लिए देश पहले होना चाहिए, आपसी मुद्दे बाद में हों। बीसीसीआई और विराट कोहली देश के हैं और देश के लिए हैं। पिछले साल सितंबर में विराट कोहली ने टी-20 की कप्तानी को छोड़ दिया था। टी-20 कप्तानी छोड़ने के बाद बीसीसीआई ने विराट कोहली को एकदिवसीय की कप्तानी से भी हटा दिया। टी-20 और एकदिवसीय दोनों फॉर्मेट में रोहित शर्मा का कप्तान बना दिया गया। दक्षिण अफ्रीका में आखिरी टेस्ट के बाद विराट कोहली ने टेस्ट की कप्तानी भी छोड़ दी। विराट कोहली की कप्तानी छोड़ने के बाद कोहली और बीसीसीआई के बीच के तल्ख मामला अब सभी के नजर में आ चुका है।

बीसीसीआई ने कहा था कि उन्होंने वनडे की कप्तानी से पहले विराट कोहली को 48 घंटे का समय दिया था। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा था कि उन्होंने कोहली को टी-20 की कप्तानी नहीं छोड़ने के लिए कहा था। कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात से इनकार कर दिया कि सौरभ ने ऐसा कहा था। इसके बाद से माना जा रहा है कि सौरभ और गांगुली के बीच कुछ भी ठीक नहीं है। टीम के भीतर भी असमंजस की स्थिति है। पूरे मामले में कपिल देव ने एक साक्षात्कार में कहा है कि आज कल आप ऐसी बातों से ज्यादा हैरान नहीं होते हैं। जब कोहली ने टी-20 की कप्तानी छोड़ी, तब किसी ने सोचा भी था कि उनके मन में कितना कुछ चल रहा है। कोई भी यह नहीं चाहता था कि वे कप्तानी छोड़ें। विराट कोहली शानदार खिलाड़ी हैं। हमें उनके फैसले का सम्मान करना चाहिए।

कपिल देव ने सलाह देते हुए कहा कि विराट कोहली-बीसीसीआई को आपस में बात करना चाहिए। एक-दूसरे का फोन उठाएं, एक-दूसरे से बात करें। उन्होंने कहा कि देश और टीम को खुद से पहले रखना चाहिए। शुरुआत में मुझे भी वह सब कुछ मिला जो मैंने चाहा था। उन्होंने कहा कि कभी-कभी आप जो चाहते हैं, वह आपको नहीं मिलता है। इसका मतलब यह नहीं है कि आप कप्तानी ही छोड़ दें। यदि वे इन सभी कारणों से कप्तानी छोड़ते हैं तो बात समझ से परे है। विराट कोहली शानदार खिलाड़ी हैं। मैं उन्हें और भी ज्यादा खेलते और रन बनाते हुए देखना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट में विराट को खेलते देखना चाहते हैं।

ये भी पढ़ेंःपूर्व कोच शास्त्री ने विराट का ऐसे किया समर्थन, गांगुली ने कभी नहीं जीता वर्ल्ड कप