Friday, December 3, 2021

हेड कोच और कप्तान के लिए बड़ी उपलब्धि, द्रविड़ ने कहा कि पैर जमीन पर रखने की जरूरत…

Must read

- Advertisement -

कोलकाता। भारत ने कोलकाता में टी-20 मैच जीतने के साथ ही न्यूजीलैंड को सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप किया है। रविवार को खेल गए मैच में भारतीय टीम ने 73 रनों से जीत दर्ज की है। टी-20 फॉर्मेट में फुल टाइम कैप्टन बने रोहित शर्मा और नए कोच राहुल द्रविड़ की अगुवाई में टीम इंडिया के लिए यह पहली उपलब्धि है। राहुल द्रविड़ ने जीत के बाद कहा कि अच्छी शुरुआत होना हमेशा बेहतर रहता है। विश्वकप के बाद लौटी टीम के लिए यह प्रेरक साबित होगा। टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने ये भी कहा कि हर किसी ने इस सीरीज में अच्छा खेल दिखाया। हमें इस जीत के बाद भी अपने पैर जमीन पर रखने की जरूरत है। खेल की स्थितियों और उसके बदलाव पर ध्यान देना होगा। न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-0 से सीरीज जीतने के बाद राहुल द्रविड़ ने कहा कि यह टी-20 एक बढ़िया सीरीज जीत थी। पूरी टीम ने सीरीज में अच्छा खेल दिखाया। उन्होंने कहा कि जीत के साथ शुरुआत करना अच्छा लगता है लेकिन हमें वास्तविकता को देखना होगा। जीत के बाद भी अपने पैर जमीन पर रखने होंगे’

शेड्यूल को लेकर सवाल

- Advertisement -

राहुल द्रविड़ ने इस दौरान शेड्यूल पर भी सवाल खड़े किये। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड के लिए विश्वकप के बाद तुरन्त सीरीज में भाग लेना कठिन है। वर्ल्डकप के तुरंत बाद तीन दिन में यहां आकर मैच खेलना। 6 दिन के अंदर ही तीन टी-20 मैच खेलना आसान नहीं है। इसलिए उनके लिए ये आसान नहीं होने वाला था। न्यूजीलैंड टीम के लिए बड़ी चुनौती थी। राहुल द्रविड़ ने कहा कि हमें भी इस सीरीज से सीख कर आगे बढ़ना होगा। इस सीरीज के बाद के सफर को लेकर कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि अगले 10 महीने में हमें अभी कई मैच खेलने हैं। वर्ल्डकप से पहले लगातार क्रिकेट होना है। टीम को ऐसे फार्मेट में ढालना होगा। ऐसे में इस बीच कई उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। लगातार नए खिलाड़ियों का अच्छा प्रदर्शन करना, टीम के लिए बेहतर होता है. कई खिलाड़ियों ने मौके का फायदा उठाया है। टीम अच्छा खेलती है तो परिणाम भी अच्छा होता है।

ज्ञात हो कि न्यूजीलैंड की टीम ने 14 नवंबर को यूएई में टी-20 वर्ल्डकप का फाइनल खेला था, जिसमें उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। टी-20 फाइनल के तुरन्त बाद 17 नवंबर को भारत में सीरीज का पहला टी-20 मैच खेला गया, जो जयपुर में था। बाकी दो मैच भी 19, 21 नवंबर को खेले गये। यही कारण था कि केन विलियमसन ने भी टी-20 सीरीज में हिस्सा नहीं लिया था। विश्व कप के 72 घंट के अंदर ही न्यूजीलैंड टीम मैदान पर उतर गयी जिसमें दुबई से जयपुर की यात्रा भी शामिल है।

यह भी पढ़ेंः-T-20 सीरीज में न्यूजीलैंड को क्लीन स्वीप कर भारत ने बनाया रिकाॅर्ड, ऐसे ही उपलब्धियों की सूची

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article