IPL 2020 की शुरूआत के पहले ही पॉन्टिंग ने अश्विन के खिलाफ दिया बड़ा बयान, दोनों के बीच जारी मतभेद

95
Ricky Ponting-R Ashwin

काफी दिनों से लग रही अटकलों के बाद फाइनली आईपीएल 2020 के आयोजन पर मुहर लग चुकी है. 19 सितंबर से IPL 2020 का आगाज होने जा रहा है. लेकिन इससे पहले ही दिल्ली कैपिटल्स के हेड कोच रिकी पॉन्टिंग (Ricky Ponting) की ओर से अपने सीनियर खिलाड़ी के खिलाफ एक बड़ा बयान आया है. दरअसल दिल्ली कैपिटल्स के कोच रिकी पॉन्टिंग ने हाल ही में अपने दिए हुए बयान में ये बात स्पष्ट की है कि वो इंडिया के सीनियर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में आउट करने वाले विवादित ‘मांकडिंग’ तरीके को इस्तेमाल करने की अनुमति किसी भी कीमत पर नहीं देंगे. इसके पीछे की वजह बताते हुए रिकी पॉन्टिंग ने कहा कि ये तरीका ‘खेल भावना’ के तहत सही नहीं है.

ये भी पढ़ें:- IPL 2020: आईपीएल के 13वें सीजन में पहली बार हुए ये बड़े एतिहासिक बदलाव, जानें इस बार क्या होगा नया

आपको याद दिला दें कि आईपीएल में ही राजस्थान रायल्स के खिलाड़ी जोस बटलर 69 रन पर उस दौरान आउट कर दिए गए थे, जब किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से कप्तानी कर रहे अश्विन (R Ashwin) ने बल्लेबाज की गिल्लियां उड़ा दी थी. यानी कि गेंद आने से पहले ही बल्लेबाज क्रीज से बाहर की ओर चला गया था. कहने को तो पूर्व भारतीय स्पिनर वीनू मांकड के नाम से इस तरह किसी खिलाड़ी को आउट कर देना क्रिकेट के बने नियमों के तहत आता है. लेकिन आज भी काफी सारे ऐसे क्रिकेटर हैं जो इस तरीके को खेल भावना के विरूद्ध मानते हैं. उनमें से एक रिकी पॉन्टिंग भी हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस साल क्रिकेटर अश्विन (R Ashwin) आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की टीम से खेलेंगे. 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में शुरू होने वाला ये आईपीएल बेहद रोमांचक होने वाला है. लेकिन आईपीएल से पहले ही अश्विन और पॉन्टिंग में मतभेद पैदा होता दिखाई दे रहा है. दरअसल जब मांकड के तरीके का इस्तेमाल करते हुए अश्विन ने बटलर को आउट किया था तब उन्होंने अपने इस तरीके का बचाव करते हुए कहा था कि ये तरीका खेल के नियमों के अंतर्गत सही था. जबकि बल्लेबाज पॉन्टिंग की नजर से देखा जाए तो ये गलत है. उनका मानना है कि ये खेल भावना के खिलाफ था. इसलिए इस बार के आईपीएल में उनकी टीम इस तरीके का यूज नहीं करेगी.

दरअसल ‘द ग्रेड क्रिकेटर पोडकास्ट’ से बातचीत करते हुए पॉन्टिंग ने अपना पक्ष रखा और कहा कि, ‘मैं उससे (अश्विन) इस (मांकडिंग) बारे में जरूर बात करूंगा. सबसे पहले तो मैं उससे यही कहने वाला हूं कि ये तरीका गलत है. फिलहाल ये बात सख्ती से होने वाली है. क्योंकि मुझे ये लग रहा है कि शायद अभी भी वो यही कहेगा कि ये नियमों के मुताबिक सही था. यहां तक कि ये तरीका इस्तेमाल करने का अधिकार भी उसके पास है.’ आगे पॉन्टिंग ने बातचीत में ये भी कहा कि, ‘फिलहाल मेरे नजरिए से ये तरीका खेल भावना के हिसाब से बिल्कुल सही नहीं है. ये एक ऐसा तरीका है जिसे मैं अपनाना नहीं चाहता. खासकर दिल्ली कैपिटल्स को तो बिल्कुल नहीं अपनाने देना चाहता.’ इसके आगे उन्होंने ये बताया कि बीते साल भी उन्होंने सभी खिलाड़ियों से ये कहा था कि दिल्ली की टीम इस तरीके का इस्तेमाल नहीं करेगी. हालांकि ‘उस दौरान वो (अश्विन) हमारी टीम में नहीं था. लेकिन इस साल हमारे खिलाड़ियों में शामिल हुआ है. अंत में पॉन्टिंग ने अश्विन की तारीफ करते हुए कहा कि वो बहुत ही शानदार गेंदबाज है. यहां तक कि एक लंबे अरसे तक आईपीएल में उसने शानदार प्रदर्शन भी किया है.’

ये भी पढ़ें:- भारतीय क्रिकेटर ने किया सुसाइड, IPL में नहीं मिला था खेलने का मौका