IPL शुरू होने से पहले फैंस के लिए बुरी खबर, इस मशहूर खिलाड़ी की हुई मौत

154
sachin deshmukh cricketer death

आईपीएल 2020 की शुरूआत होने में सिर्फ एक दिन का समय बाकी है. लेकिन उससे पहले ही क्रिकेट फैंस के लिए बुरी खबर सामने आ गई है. जी हां हाल ही में एक मशहूर खिलाड़ी की मौत हो गई है. दरअसल हम बात कर रहे हैं मुंबई के पूर्व क्रिकेटर सचिन देशमुख (Sachin Deshmukh) की, जिनकी हाल ही में कोरोना के चलते मौत हो गई है. खबरों की माने तो कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उन्हें ठाणे के वेदांत अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. लेकिन बीते मंगलवार को वो जिंदगी की जंग से हार गए और हॉस्पिटल में उन्होंने दम तोड़ दिया. क्रिकेटर सचिन देशमुख की उम्र 52 साल थी.

ये भी पढ़ें:- रैना की भारत वापसी की सामने आई सच्चाई, क्रिकेटर पर भड़के CSK के मालिक श्रीनिवासन ने बताई वजह

सचिन के दोस्तों की माने तो क्रिकेटर अस्पताल में एडमिट नहीं होना चाहते थे. जबकि उनकी तबीयत काफी दिनों से खराब थी और उन्हें फीवर भी था. लेकिन 9 दिन बीत जाने के बाद सचिन को पता चला कि वो कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सचिन देशमुख वाकई काफी जबरदस्त क्रिकेटर थे. उन्हें सिर्फ मुंबई में ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र की भी रणजी टीम (Ranji Trophy) में खेलने का मौका दिया गया था. हालांकि ये अलग बात है कि प्लेइंग इलेवन में उन्हें खेलने का मौका नहीं दिया गया था.

दरअसल द टाइम्स ऑफ इंडिया ने क्रिकेटर के दोस्त अभिजीत देशपांडे के बयान के मुताबिक लिखा है कि, सचिन देशमुख ऐसे प्लेयर थे जिन्होंने कप्तानी करते हुए साल 1986 के कूच विहार ट्रॉफी में जबरदस्त प्रदर्शन किया था. खास बात तो ये है कि पांच पारी में खेलते हुए उन्होंने 3 शतक जड़े थे. रिपोर्ट के मुताबिक अभिजीत ने सचिन के साथ स्कूल में क्रिकेट खेला करते थे. फिलहाल इस कोरोना काल में देशमुख मुंबई में ही एक्साइज एंड कस्टम डिपार्टमेंट में सुपरिटेंडेंट की पोस्ट पर काम कर रहे थे.

7 मैचों में लगा चुके हैं लगातार धमाकेदार 7 शतक
साल 1990 का दौर है जब इंटर यूनिवर्सिटी टूर्नामेंट में सचिन देशमुख ने अपने खेल से लोगों को हैरान कर दिया था. उस दौरान उन्होंने 7 मैचों में धुआंधार 7 शतक जड़ने का जबरदस्त रिकॉर्ड अपने नाम किया था. कहा जाता है कि सचिन मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज थे. इतना ही नहीं भारत के पूर्व विकेटकीपर माधव मंत्री की माने तो वो बहुत ही प्रतिभाशाली और गिफ्टेड क्रिकेटर में से एक थे. हालांकि क्रिकेटर की मौत ने सभी को हिलाकर रख दिया है. इसके साथ ही उनके एक करीबी दोस्त रमेश वाजगे का कहना है कि सचिन की इस तरह से मौत सभी लोगों के लिए एक मैसेज भी है कि इस वायरस को कोई हल्के में न लें.

ये भी पढ़ें:- कोरोना संक्रमण से भारतीय क्रिकेटर के पिता की मौत, शोक में डूबा खेल जगत, गौतम-सहवाग के थे लोकप्रिय