Wednesday, January 20, 2021
Home खेल सिडनी टेस्ट ड्राॅ होने की ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने ली जिम्मेदारी

सिडनी टेस्ट ड्राॅ होने की ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने ली जिम्मेदारी

सिडनी। भारत- ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला जा रहा तीसरा टेस्ट मैच ड्राॅ हो गया है। दोनों टीमों ने मैच को रोमांचक और निर्णायक बनाने की कोशिश की लेकिन परिणाम नहीं निकल सका। टेस्ट ड्राॅ होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने सोमवार को अपने लिए सबसे खराब दिनों में एक करार दिया। उन्होंने कहा मैंने तीन कैच छोड़कर अपनी टीम को निराश किया और एक तरह से तीसरा टेस्ट मैच ड्राॅ करवाने में भारत की मदद की। टिम पेन मैच समाप्त होने के बाद काफी निराश दिख रहे थे। भारत के सामने 407 रन का लक्ष्य था और उसने पांच विकेट पर 334 रन बनाकर मैच ड्राॅ करवाया। पेन ने कहा कि उन्होंने विकेट के पीछे अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। विकेट पीछे अच्छा प्रदर्शन किया होता तो मैच का निर्णय जरूर निकलता।  पेन ने ऋषभ पंत के दो कैच छोड़े जिन्होंने 97 रन की तेज पारी खेली और भारत की जीत की उम्मीद जगाई। पहला कैच छोड़ने के बाद उन्होंने हनुमा विहारी को भी जीवनदान दिया जो 23 रन बनाकर नाबाद रहे। रविचंद्रन अश्विन ने नाबाद 39 बनाकर मैच ड्राॅ कराया। पेन ने मैच के बाद कहा कि निश्चित तौर पर इस परिणाम में छोड़े गए कैच की भूमिका भी अहम रही। परिणाम किसी के पक्ष में भी जा सकता था लेकिन मैं बहुत निराश हूं। मुझे अपनी विकेटकीपिंग पर गर्व है। मेरे लिए आज का दिन सबसे बुरे दिनों में से एक था।
टिम पेन ने कहा कि यह भयावह अहसास है यह जानते हुए कि हमारे तेज गेंदबाजों और हमारे स्पिनर ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। मुझे निश्चित तौर पर लग रहा है कि मैंने उन्हें निराश किया।

यह भी पढेंः-ऋषभ पंत ने चोट लगने के बावजूद जड़ा अर्धशतक, रचा इतिहास

उन्होंने ब्रिसबेन में होने वाले अंतिम टेस्ट मैच के संदर्भ में कहा कि मुझे यह स्वीकार करना होगा लेकिन मुझे अगले सप्ताह एक और मौका मिलेगा इसलिए अब आगे के बारे में सोचते हैं। अश्विन जब बल्लेबाजी कर रहे थे तो पेन की उनके साथ झड़प भी हुई। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि यह खेल का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि जब खेल चल रहा था तो थोड़ा बहस हुई थी। वे समय बर्बाद कर रहे थे। हम थोड़ा निराश हो रहे थे। हमने उसे बताया तो उसने भी बात की और यह खेल का हिस्सा है। कुछ भी गलत नहीं हुआ।

पेन ने कहा कि भारत ने कड़ा संघर्ष किया और वह इस परिणाम का हकदार था। उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर हम मैच जीतना चाहते थे। हमने पर्याप्त मौके बनाये। हमारे लिये मैच में कई सकारात्मक पहलू रहे। यह टेस्ट क्रिकेट का शानदार मैच था। पेन ने कहा कि हम जैसा समझते थे भारत ने वैसे ही कड़ा संघर्ष किया। हम जीत हासिल न करके निराश हैं लेकिन मेलबर्न टेस्ट के बाद हमारे लिए कुछ अच्छे पहलू भी रहे। भारतीय टीम ने भी अच्छा प्रदर्शन किया। चैथे टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन की उम्मीद है।

यह भी पढेंः-सुमोना को ग्रीन लॉन्ग ड्रेस में देख फैंस रह गए दंग, दिखा कपिल शर्मा की ‘भूरी’ का बोल्ड अंदाज

Most Popular