virat kohli wtc 3

साउथम्पटन। इंग्लैंड में खेले गए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के बाद भारतीय क्रिकेट प्रेमियों का सपना टूट गया। टेस्ट क्रिकेट के विश्व कप फाइनल को न्यूजीलैंड ने 8 विकेट से जीत लिया। टीम इंडिया ने मैच के दौरान कई बड़ी गलतियां की हैं। मैच के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली हार बहाना बनाते नजर आये। मुकाबले में भारतीय टीम दूसरी पारी में 170 रन पर आउट हो गई। न्यूजीलैंड को 139 रन का लक्ष्य मिला जो उसने केन विलियमसन (नाबाद 52) और रोस टेलर (नाबाद 47) के बीच तीसरे विकेट के लिए 96 रन की अटूट साझेदारी से दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने पिच पर रूक कर अच्छा प्रदर्शन किया। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में जीत का हकदार बताया और कहा कि बारिश के व्यवधान के कारण उनकी टीम की लय गड़बड़ा गयी। विराट कोहली ने कहा कि पहला दिन बारिश से धुल गया। जब खेल फिर से शुरू हुआ तो लय हासिल करना मुश्किल था।

उन्होंने कहा कि हमने केवल तीन विकेट गंवाए लेकिन यदि खेल बिना रुकावट के चलता रहता तो हम और रन बना सकते थे। विराट कोहली ने कहा कि यदि उनकी टीम ने दूसरी पारी में 30 से 40 रन अधिक बनाये होते तो परिणाम भिन्न हो सकता था। भारतीय टीम के लिए अवसर होते। कोहली ने कहा कि केन विलियमसन और न्यूजीलैंड की पूरी टीम को बधाई। उन्होंने गजब का जज्बा दिखाया और तीन दिन से थोड़े अधिक समय में परिणाम हासिल किया। उन्होंने हमें दबाव में रखा और मैच जीत गये। कोहली ने कहा कि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने अपनी रणनीति पर अच्छी तरह से अमल किया। उनकी गेंदबाजी के सामन भारतीय टीम ने 30 से 40 रन कम बनाये।

भारतीय खिलाड़ियों ने जहां इस मैच की पहली पारी में शानदार प्रदर्शन किया वहीं दूसरी पारी में सभी पूरी तरह फ्लॉप रही। बल्लेबाजी में भारत सिर्फ 170 रन पर सिमट गयी। चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा की बल्लेबाजी लचर रही। आर अश्विन को छोड़कर एक भी गेंदबाज उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सका। दूसरी पारी में 170 रन पर ऑलआउट होने के बाद टीम इंडिया ने मैच जीतने के लिए न्यूजीलैंड के सामने 139 रनों का लक्ष्य रखा था। न्यूजीलैंड टीम आसानी से दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। कीवी टीम दुनिया की पहली टेस्ट चैम्पियन बन गई है।

ये भी पढ़ेंः-आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और इंग्लैंड सीरीज के लिए टीम घोषित होते ही विरोध शुरू, कई खिलाड़ियों को किया गया नजरअंदाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here