आने वाले महीने में बदलेगा ये ग्रह, मिथुन-सिंह समेत इन 8 राशियों पर पड़ेगा इसका खतरनाक असर

687
Ketu Transit 2020

हिन्दू धर्मों और शास्त्रों में ग्रहों का अधिक महत्व माना जाता है. जैसे-जैसे ग्रह अपनी स्थिति बदलते हैं इसी के साथ मनुष्य के जीवन में भी ढ़ेर सारे बदलाव आते हैं. इसी बीच ज्योतिषियों की माने तो केतु ग्रह (Ketu Transit 2020) आगामी महीने 23 सितंबर से धनु राशि में भ्रमण करने लगेगा. फिलहाल केतु का गोचर इस साल की बड़ी ज्योतिषीय घटनाओं में से एक माना जा रहा है. हैरानी वाली बात तो ये है कि केतु का इस तरह से गोचर सभी राशियों को अपनी चपेट में लेने वाला है. हालांकि सभी राशियों पर पड़ने वाला ये प्रभाव शुभ-अशुभ दोनों तरीके का हो सकता है. वैदिक ज्योतिष की माने तो इस केतु ग्रह को एक छाया ग्रह का भी नाम दिया गया है. जो मोक्ष, अध्यात्म और वैराग्य का कारक कहा जाता है और साथ ये एक रहस्यमी ग्रह भी माना गया है. ऐसे में कहते हैं कि जिस शख्स की कुंडली में केतु शुभ होता है, वो उस व्यक्ति की कल्पना शक्ति को अपार कर देता है. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस केतु का सभी राशियों पर किस तरह का प्रभाव पड़ने वाला है.

ये भी पढ़ें:- जन्म कुंडली से जुड़े ग्रह कमजोर पड़ने पर मिलते हैं ये बड़े संकेत, जानें कैसे आदतों में होता है बदलाव

मेष राशि
मेष राशियों के लिए ये गोचर धार्मिक प्रवृत्ति को बढ़ाएगा. हो सकता है कि आपका अचानक से किसी तीर्थ यात्रा का प्लान बन जाए. इस गोचर से आपका मन संसार के जीवन से हटकर भक्ति में ज्यादा लगेगा.

वृष
वृष राशियों के लिए ये केतु अच्छा समाचार ला सकता है. उच्च शिक्षा से जुड़े कामों में सफलता हाथ लग सकती है. इसके साथ ही अगर आप रिसर्च फील्ड के स्टूडेंट हैं तो उसमें गोचर कामयाबी दिलाएगा. यदि आप पीएचडी के स्टूडेंट हैं तो इस साल आपको बड़ी सफलता हासिल हो सकती है. हालांकि आपके पैरों में दर्द की शिकायत होने का अनुमान है.

मिथुन
मिथुन राशि वालों के लिए ये गोचर बुरी समस्याओं को पैदा कर सकता है. इस राशि से जुड़े लोगों को अपनी फील्ड में कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ सकता है. हो सकता है कि आप पर बॉस की नाराजगी ज्यादा बढ़ जाए. इसलिए अपने सभी काम को सावधानी तरीके से करने की आवश्यकता है. इतना ही नहीं आपके वैवाहिक जीवन में भी कुछ परेशानियां आएंगी. इसके साथ ही लाइफ पार्टनर और व्यापार में सहयोगियों से मतभेद भी हो सकते हैं.

कर्क
कर्क राशि के लिए भी ये गोचर अशुभ साबित हो सकता है. आपका संघर्ष और बढ़ सकता है. इसके साथ ही आपके दुश्मन आप पर हावी होने की पूरी कोशिश करेंगे. इसके अलावा इस राशि के जातकों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है.

सिंह
सिंह के लिए भी ये गोचर खास शुभ संकेत नहीं दे रहा है. ऐसे में आपको संतान से संबंधित दिक्कतें हो सकती हैं. प्रेम में पार्टनर के साथ गलतफहमियां बढ़ने के पूरे आसार हैं. हालांकि आप पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको अच्छी खुशखबरियां भी मिल सकती हैं.

कन्या
कन्या राशि के लिए भी ये गोचर अच्छा संकेत लेकर नहीं आ रहा है. क्योंकि इससे आपके सुखों में कमी होने की पूरी संभावना है. इस दौरान आपकी माता की स्वास्थ्य संबंधी परेशानी ज्यादा बढ़ सकती है. इसके अलावा अगर आप इस वक्त किसी तरह का वाहन या फिर प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो उसका मुहूर्त जरूर निकलवा लें.

तुला
तुला जातकों के लिए ये गोचर अशुभ संकेत दे रहा है. इससे आपके विश्वास में कमी होगी. आपका अपना दृढ़-विश्वास भी कमजोर पड़ने लगेगा. इतना ही नहीं अपने भाई-बहनों से आपका आपसी मतभेद भी बढ़ सकता है. इसके साथ ही अध्यात्मिक विषय आपको अपनी तरफ खींच सकते हैं.

वृश्चिक
वृश्चिक जातकों के लिए ये गोचक सही साबित होगा. इस समय में आपके लिए बन रहीं सभी परिस्थितियां प्रतिकूल होंगी. हालांकि आपका मन सांसारिक चीजों से हटेगा और धार्मिक, वैराग्य और अध्यात्म जैसे विषयों में लगेगा.

धनु
धनु राशि के जातकों की कल्पना शक्ति बढ़ेगी. इसके साथ आपके जीवन में आगे क्या होने वाला है इसके भी संकेत मिल सकते हैं. फिलहाल इस दौरान कार्य और व्यवसाय में हालात आपके हिसाब से नहीं होंगे. इसके अलावा घर में परिवार वालों से मन-मुटाव हो सकता है.

मकर
गोचर से मकर राशि के जातकों में फिजूल खर्ची बढ़ सकती है. आर्थिक तौर पर हानि भी हो सकती है. यदि लंबे सफर के लिए कोई यात्रा का प्लान बना है तो उसके लिए योग सही है लेकिन इस दौरान पैसा अधिक खर्च हो सकता है. इसके साथ ही अचानक किसी कारणवश आपको विदेश यात्रा पर भी जाने का मौका मिल सकता.

कुंभ
कुंभ राशि के लिए भी ये गोचर शुभ नहीं है. इस दौरान आमदनी में कटौती होगी. पहले से ही अटके हुए पैसे आपको आसानी से नहीं मिलेंगे. किसी घरेलू मसले को लेकर भाई-बहन की आपस में तकरार हो सकती है. कार्य क्षेत्र में कामयाबी या पहचान न मिलने के कारण आप दुखी हो सकते हैं.

मीन
मीन के लिए भी ये गोचर कुछ खास शुभ संकेत लेकर नहीं आया है. इससे आपकी परिस्थितियों में बाधा पड़ेगी. कार्यक्षेत्र में अलग-अलग तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा. इसके अलावा प्रोफेशनल लाइफ में आपके साथ काम कर रहे कर्मचारी आपकी छवि को दूसरों के सामने खराब करने के लिए हर मुमकिन प्रयास करेंगे. बस आपको उनके बनाए हुए चक्रव्यूह में खुद को फंसने से रोकना है.

ये भी पढ़ें:- अगर आपकी कुंडली में है कालसर्प दोष तो घबराइए मत, ज्योतिष विद्या में है इसका उपाय, देखिए यहां