Raksha Bandhan 2021

हर साल रक्षा बंधन (Raksha Bandhan) का त्यौहार श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि को मनाया जाता है. इसी दिन भाईयों की लंबी उम्र के लिए और सुख-समृद्धि की प्रार्थना करते हुए भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं. ज्योतिषों का कहना है कि कई बार लोग रक्षा बंधन के दिन बड़ी गलतियां कर देते हैं और उनको पता भी नहीं चलता है. जिसका उनके जीवन पर गलत प्रभाव पडता है. आइए जानते हैं कौन सी गलतियां रक्षा बंधन पर नहीं करनी चाहिए.

इन गलतियों को भूल कर भी ना करें

इस बार भद्रा का साया नहीं लग रहा है. इस भद्रा काल और राहु काल में राखी नहीं बांधी जाती है, पर शाम 5 बजकर 16 मिनट से लेकर 6 बजकर 54 मिनट तक राहु काल चलेगा. उस समय भूलकर भी राखी ना बांधे.

22 अगस्त की सुबह 06 बजकर 14 मिनट तक भद्रा रहेगा. इसके बाद पूरा दिन ये पर्व मनाया जा सकता है. जबकि पूर्णिमा तिथि शाम 05 बजकर 31 मिनट तक ही होगा. इसलिए 05.31 बजने से पूर्व ही भाई की कलाई पर राखी बांध दें.

अधिकतर बाजारों में राखियां लाने पर वो टूट जाती हैं और हम उसको वापस से ठीक कर लेते हैं. पर ज्योतिष के अनुसार, अगर कोई राखी खंडित हो जाती है, तो उसका प्रयोग वर्जित होता है.इन राखी को कभी नहीं बांधना चाहिए.

प्लास्टिक से बनी राखियों को केतु का पदार्थ माना गया है और ये अपयश को बढ़ावा देता है. इसीलिए सभी लोग प्लास्टिक की राखियां खरीदने से बचना चाहिए.

राखियां खरीदते वक्त जरूर ख्याल रखें कि वे किसी धारदार या नुकीली चीज से ना बनी हो. बताया जाता है कि शुभ मौकों पर ऐसी चीजें अशुभ बताई गयी हैं, इसीलिए ये वाली राखी ना खरीदे.

रक्षा बंधन पर सभी भाई राखी बांधने पर अपनी बहन को उपहार भी देते हैं. लेकिन कई बार वो गलती कर देते हैं. ज्योतिष के अनुसार, इस दिन बहन को धारदार या नुकीली चीजें उपहार स्वरूप नहीं देनी चाहिए. जैसे कि छुरी कांटे का सेट, मिक्सी, आइना या फोटो फ्रेम इत्यादि.

इसके अलावा कभी भी बहन को रुमाल, जूते-चप्पल या सेंडल जैसी चीजें भी उपहार में नहीं देनी चाहिए. ज्योतिष में बुध को बहनों का कारक बताया गया है, इसलिए आप इस ग्रह से जुड़ी हुई सभी चीजें दे सकते हैं. आप उन्हें गैजेट या कोई इलेक्ट्रोनिक का सामान भी गिफ्ट कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें-Raksha Bandhan 2021 : इस मुहुर्त में राखी बांधना नहीं है खतरों से खाली, जाने शुभ मुहुर्त