Thursday, January 28, 2021
Home धर्म-ज्योतिष साल के आखिरी सूर्यग्रहण पर गुरु चंडाल योग, इन 6 राशियों को...

साल के आखिरी सूर्यग्रहण पर गुरु चंडाल योग, इन 6 राशियों को रहना होगा सावधान, जानें समय

साल 2020 का आखिरी सूर्यग्रहण (Surya Grahan 2020) 14 दिसंबर को लगने जा रहा है. सूर्यग्रहण उस स्थिति में लगता है जब पृथ्वी और सूर्य के बीच चंद्रमा आ जाता है. पर जब चांद आंशिक रूप से सूर्य को ढकता है तो ऐसे ग्रहण को खंड -ग्रास सूर्य ग्रहण कहते हैं. 14 दिसंबर को लगने जा रहे ग्रहण की अवधि पांच घंटे की रहेगी और ज्योतिषीय दृष्टि से ग्रहण वृश्चिक और ज्येष्ठा नक्षत्र में लगेगा.

गुरु चंडाल योग
ज्योतिष शास्त्र की मानें तो 14 दिसंबर को लगने जा रहे ग्रहण के दौरान गुरु चंडाल योग बन रहा है. इसके अलावा राहु की दृष्टि देवगुरु बृहस्पति पर पड़ रही है जबकि बृहस्पति मकर राशि में शनि के साथ स्थित है. ऐसे में उन लोगों को खासतौर से सावधानी बरतनी होगी जिनकी जन्म कुंडली में पहले से ही गुरु चंडाल योग बना हुआ है. ज्योतिष की मानें तो छह राशियों पर सूर्यग्रहण का बुरा प्रभाव पड़ सकता है. तो आइए जानते हैं कि उन छह राशियों के बारे में. जिन्हें सूर्यग्रहण के दौरान बेहद सावधान रहने की जरूरत है.

छह राशियों पर बुरा प्रभाव
ज्योतिश शास्त्र के मुताबिक, मेष, कर्क, मिथुन, कन्या, तुला और मकर राशि पर सूर्यग्रहण का बुरा प्रभाव पड़ सकता है. ऐसे में जातकों को सावधान रहने की जरूरत है. सूर्यग्रहण वाले दिन इन राशियों के लोग अपने गुस्से पर काबू रखें और बेवजह के विवाद से दूर रहें. जितना संभव हो उतना ही बोले.

कितने बजे लगेगा ग्रहण?
सूर्यग्रहण लगने से 12 घंटे पहले सूतक काल शुरू हो जाता है और सूतक काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए. सूर्यग्रहण का आरंभ 14 दिसंबर की शाम 07 बजकर 03 मिनट पर होगा और 15 दिसंबर की मध्यरात्रि 12.23 बजे ग्रहण समाप्त हो जाएगा. ग्रहण के दौरान छोटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं को सावधान रहना चाहिए और घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. इससे होने वाले बच्चे पर ग्रहण का बुरा प्रभाव पड़ता है.

ये भी पढ़ेंः- नए साल पर घर लाएं ये 10 शुभ चीजें, खुशहाली के साथ घर में बनी रहेगी बरकत

Most Popular