सावधानः मंगल ग्रह मेष से वृषभ राशि करने वाले है गोचर, लगने वाला है अंगारक योग

Mars

ग्रहों का सेनापति की श्रेणी में मंगल ग्रह को रखा गया है. ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि साहस और युद्ध के कारक मंगल ही है. अब मंगल ग्रह का राशि परिवर्तन होने जा रहा है. इस समय मंगल ग्रह मेष राशि में विराजमान हैं, जिसे मंगल की राशि कह जाता है, लेकिन मंगल ग्रह की स्थिति बदलने वाली है, अब ये मेष राशि से हट कर वृषभ राशि में गोचर करेंगे. आइए जानते है कि ये परिवर्तन कब, कैसे, किस तरह वृषभ राशि के जातकों के जीवन में प्रभाव डाल सकते हैं?

इसे भी पढ़ें-22 फरवरी राशिफलः मिथुन के लिए आर्थिक दृष्टि से लाभकारी है दिन, जानें किसकी चमकेगी किस्मत

कब होगा मंगल राशि का परिवर्तन?

पंचांग के अनुसार मंगल ग्रह 22 फरवरी सोमवार की भोर 5 बजकर 02 मिनट पर अपनी राशि बदल रहे हैं. इस समय मंगल ग्रह मेष राशि से बाहर निकल कर वृषभ राशि में प्रवेश करेंगे. 24 अप्रैल तक मंगल ग्रह, वृषभ राशि में रहेंगे. 24 अप्रैल के बाद मंगल ग्रह मिथुन राशि में आ जाएंगे. पाप ग्रह की श्रेणी में राहु को रखा गया है. कल यानि की 22 फरवरी की सुबह से मंगल ग्रह वृषभ राशि में गोचर कर रहा है. इसमें इस वर्ष राहु का कोई राशि परिवर्तन नहीं है, इसलिए राहु और मंगल का संयोग एक खतरनाक योग बना रहे है, जिसके कारण सारी राशियों पर इसका प्रभाव काफी दिखाई देगी.

लगने वाला है अंगारक योग

अंगारक योग का निर्माण तब होता है जब कुंडली में राहु और केतु में से किसी एक के साथ मंगल ग्रह का संयोग होता है. ज्योतिष शास्त्र में बताए गए अशुभ योगों में से एक अंगारक योग भी है. ऐसा होने के कारण इंसान गुस्सा करने लगता है और हिंसक बनने लगता है. किसी हादसे, रक्त संबंधी कोई रोग आदि होने की संभावना बनी रहती है. भाई बहनों के बीच और अन्य रिश्तेदारों के मध्य धीरे-धीरे रिश्ते खराब होने लगते हैं. इसलिए इस योग का उपाय सबसे ज्यादा जरूरी है.

उपाय

अंगारक योग के हानिकारक प्रभावों से खुद को बचाने के लिए नियमित रूप से हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए. इतना ही नहीं इसके साथ ही मंगलवार को हनुमान जी को चोला चढ़ाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें. मंगल ग्रह और राहु ग्रह से जुड़ी चीजों का दान करें.

इसे भी पढ़ें-सोमवार उपायः इन 5 उपायों से भगवान शिव को करें प्रसन्न, धन में होगी वृद्धि, बाधाओं से मिलेगी मुक्ति!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *