Saturday, January 23, 2021
Home राजनीति विपक्ष को मिलेगा नया चेहरा, सोनिया गांधी देंगी इस्तीफा! शरद पवार को...

विपक्ष को मिलेगा नया चेहरा, सोनिया गांधी देंगी इस्तीफा! शरद पवार को मिलेगी कांग्रेस की कमान

देश की राजनीति में आने वाले समय में बहुत बड़ा बदलाव होने के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं. ऐसी खबरें हैं कि, सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) यूपीए (UPA) अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे सकती हैं और उनकी जगह एक ऐसा कद्दावर नेता ले सकता है जिससे कांग्रेस की पूरी किस्मत पलट सकती है. फिलहाल तो यूपीए अध्यक्ष की रेस में राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख व महाराष्ट्र के दिग्गज नेता शरद पवार (sharad pawar) सबसे आगे चल रहे हैं. लेकिन सोनिया गांधी इस्तीफा देना क्यों चाहती हैं ये भी जानना जरूरी है. लेकिन उससे पहले आपको बता दें, 1991 में शरद पवार ने सिर्फ इसलिए इस्तीफा दे दिया था क्योंकि सोनिया गांधी विदेशी मूल की है. तब उन्होंने सोनिया के विदेशी मूल का हवाला देकर इस्तीफा दिया था और अब उन्हीं को सोनिया गांधी की जगह मिलने की संभावना है.

क्यों देंगी इस्तीफा
सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, सोनिया गांधी का स्वास्थ्य कुछ ठीक नहीं है और अपने स्वास्थ्य के कारण वह यूपीए प्रमुख के रूप में आगे कार्यकाल जारी नहीं रखना चाहती. इसके अलावा वह राजनीति में भी बहुत ज्यादा एक्टिव नहीं नजर आ रही क्योंकि उनकी सेहत खराब है. ऐसे में सोनिया गांधी चाहती हैं कि वह यूपीए अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दें. अगर ऐसा होता है तो महाराष्ट्र से पवार ‘द ग्रैंड ओल्ड मैन’ कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन यूपीए का नेतृत्व कर सकते हैं. जिससे राजनीति में बड़ा उलटफेर देखने को मिल सकता है. क्योंकि जब विपक्ष को नया चेहरा मिलेगा तो यकीनन राजनीति में बदलाव आएगा.

राजनीति में पकड़
शरद पवार एक कद्दावर नेता हैं और उनके पास अनुभव के साथ अच्छी पकड़ भी है. महाराष्ट्र में भी पवार का अपना रसूख काफी काम करता है. पवार को यूपीए अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा के बीच कांग्रेस नेताओं का एक वर्ग इसका समर्थन करता है और वैसे भी राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनने से इनकार कर चुके हैं. ऐसे में साफ है कि, अब गांधी परिवार से नहीं बल्कि दूसरे नेताओं को अध्यक्ष बनने का मौका मिलेगा. जिसमें सबसे आगे शरद पवार हैं.

राहुल गांधी खुद को करें पेश
यूपीए अध्यक्ष नए बनाए जाने की चर्चाओं के बीच एक वर्ग मानता है कि राहुल गांधी को यूपीए के मुख्य चेहरे के रूप में पेश कर सकते हैं. लेकिन अध्यक्ष के रूप में बेहतर विकल्प शरद पवार हैं और इस समय महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस मिलकर अपनी सरकार चला रही है. वैसे शरद पवार के नाम पर शिवसेना ने भी समर्थन दिया है. शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा है कि एनसीपी प्रमुख में देश का नेतृत्व करने की क्षमता है और पवार को देश के मुद्दों का पूरी तरह ज्ञान है और लोगों की नब्ज पर उनकी एक मजबूत पकड़ है. इसलिए उन्हीं को पार्टी का जिम्मेदारी मिलनी चाहिए. जिससे पार्टी अच्छा प्रदर्शन कर सके.

ये भी पढ़ेंः- कुमारस्वामी का छलका दर्द, बीजेपी से दोस्ती रहती तो बना रहता CM, कांग्रेस ने कर दिया सब बर्बाद

Most Popular